Breaking News

शहर के उत्तरी भाग में मुख्य नाला निर्माण के लिए रूट चयनित

लाइव खगड़िया : शहर को जलजमाव की समस्या से निजात दिलाने के मद्देनजर प्रस्तावित नालों के संबंध में शनिवार को जिलाधिकारी आलोक रंजन घोष के द्वारा समीक्षा की गई. वहीं मुख्यमंत्री 7 निश्चय योजना (भाग-2) अंतर्गत नालों के निर्माण हेतु प्राथमिकता के आधार पर रूट के चयन के संबंध में विचार विमर्श किया गया. इस दौरान शहर के रेलवे लाइन के उत्तरी भाग में विभिन्न नालों को प्राथमिकता के आधार पर चयन किया गया.

मिली जानकारी के अनुसार एक मुख्य नाला विद्यार्थी टोल, संसारपुर से परमानंदपुर ढाला, समाहरणालय होते हुए पटेल चौक तक निर्मित किया जाएगा. जबकि संसारपुर में डिवाटरिंग पंप सिस्टम लगाया जाएगा, जो अतिरिक्त पानी को रेलवे लाइन और राष्ट्रीय उच्च मार्ग के पार गंडक नदी में छोड़ेगा.

इसी तरह दूसरा मुख्य नाला पटेल चौक से गौशाला रोड, बाजार समिति, रोज बड एकेडमी, राबड़ी नगर होते हुए पैरवाधार धारा में जाएगा. दूसरा मुख्य नाले में होमगार्ड ऑफिस से बिजली कार्यालय, पूर्व सांसद रेणू सिंह के घर, प्रह्लाद मिल, अशोक नगर, डीएवी चौक, ओम हॉस्पिटल, सन्हौली पंचायत भवन होते हुए गौशाला रोड तक बनने वाला एक अन्य नाला जुड़ेगा. साथ ही सन्हौली पंचायत भवन या फिर गौशाला चौक के आसपास एक डिवाटरिंग पंप सिस्टम भी लगाया जाएगा और पैरवाधार में भी आवश्यकता के अनुसार डिवाटरिंग पंप सिस्टम लगाया जा सकता है.

मिली जानकारी के अनुसार इस कार्य के लिए बिहार शहरी आधारभूत संरचना विकास निगम लिमिटेड (बुडको) द्वारा वर्तमान स्थिति के आधार पर प्रथम चरण में लगभग 44 करोड़ का प्राक्कलन भेजा जा रहा है, जिस पर अगले सप्ताह प्रशासनिक स्वीकृति मिलने की उम्मीद है. प्रशासनिक स्वीकृति के साथ ही नाला निर्माण कार्य के लिए बजट भी आवंटित हो जाएगा. उल्लेखनीय है कि गत वर्ष 75 करोड़ का डीपीआर शहरी क्षेत्र में नाले के निर्माण हेतु बुडको को भेजा गया था और अब इस योजना पर चरणवार कार्य किया जाना है.

मुख्य नालों के रूट के चयन हेतु आयोजित बैठक में वरीय उप समाहर्ता चंदन कुमार, नगर परिषद के कार्यपालक पदाधिकारी रणवीर कुमार, बुडको के कार्यपालक अभियंता अवधेश कुमार, सहायक अभियंता कुंदन कुमार व कनीय अभियंता रोशन कुमार उपस्थित थे.

Check Also

बाल दिवस : गणितीय विधि से बनाया गया चाचा नेहरू की आकृति रहा आकर्षण का केंद्र

बाल दिवस : गणितीय विधि से बनाया गया चाचा नेहरू की आकृति रहा आकर्षण का केंद्र

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: