Breaking News

टल गया बड़ा ट्रेन हादसा, बाल-बाल बचे यात्री


लाइव खगड़िया (मुकेश कुमार मिश्र) : मानसी-सहरसा रेलखंड के पुल नंबर 50 के समीप सोमवार की शाम राज्यरानी सुपरफास्ट एक्सप्रेस हादसे के शिकार होने से बच गई. बताया जाता है कि ट्रेन में पुल का चदरा फंस जाने के बाद तेज घर्षण से आग निकलने लगी. हलांकि मौके की नजाकत को परखते हुए ट्रेन के ड्राइवर ने सूझबूछ दिखाई और इमरजेंसी ब्रेक लगाकर ट्रेन को रोक दिया. जिससे एक बड़ा ट्रेन हादसा टल गया.

घटना मां कात्यायनी मंदिर के समीप का बताया जाता है. मामले पर ट्रेन के ड्राइवर कमलेश्वरी दास और शिव शंकर कुमार ने बताया कि ट्रेन तेज रफ्तार में सहरसा की ओर जा रही थी और करीब 6 बजकर 40 मिनट पर ट्रेन जैसे ही पुल नंबर 50 पर पहुंची कि पुल का एक बड़ा चदरा टूटकर ट्रेन से टकरा गई. जिसके बाद घर्षण से चिंगारी निकलने लगी।. ऐसे में इमरजेंसी ब्रेक लगाया गया और ट्रेन पुल पार करते हुए कात्यायनी पुल के समीप आकर रुक गई. घटना के बाद ट्रेन के चालक व गार्ड ने ट्रेन के हाउस पाइप में फंसे चदरे को बाहर निकाला. जिसके बाद 7 बजकर 40 मिनट पर ट्रेन को रवाना किया गया और तब यात्रियों ने राहत की सांस ली.

इधर धमारा घाट स्टेशन के स्टेशन मास्टर सुमन कुमार ने भी बताया है कि राज्यरानी एक्सप्रेस बदला घाट व धमारा घाट स्टेशन के बीच मां कात्यायनी स्थान के समीप करीब एक घंटा तक रूकी रही. हलांकि घटनास्थल पर छाया अंधेरा परेशानियों को बढ़ा रहा था, लेकिन स्थानीय लोगों का रेलकर्मियों को भरपूर सहयोग मिला.

Check Also

मनोकामना पूर्ण होने पर खौलते खीर को हाथ से निकालने की परंपरा है यहां

मनोकामना पूर्ण होने पर खौलते खीर को हाथ से निकालने की परंपरा है यहां

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: