Breaking News

स्टेट हाईवे 95 : भूमि अधिग्रहण को लेकर 6 सदस्यीय टीम ने किया स्थलीय निरीक्षण

लाइव खगड़िया : जिलाधिकारी आलोक रंजन घोष की अध्यक्षता में 6 सदस्यीय समिति ने मानसी के बलहा से फनगो हॉल्ट, चौथम होकर सहरसा को जोड़ने वाली स्टेट हाईवे 95 के निर्माण को लेकर 6 मौजों में भूमि अधिग्रहण हेतु भूमि के किस्म निर्धारण के लिए सोमवार को स्थलीय निरीक्षण किया. बताया जाता है कि भूमि अधिग्रहण के एवज में किसानों को मुआवजा देने के लिए भूमि के किस्म के निर्धारण की आवश्यकता होती है और इस आधार पर ही मुआवजा की दर निर्धारित होती है. इसी परिप्रेक्ष्य में जिलाधिकारी की अध्यक्षता में अपर समाहर्ता, उप विकास आयुक्त, भूमि सुधार उप समाहर्ता, जिला अवर निबंधक एवं अंचलाधिकारी को शामिल करते हुए जांच हेतु समिति का गठन किया गया था.

स्थलीय निरीक्षण के दौरान मानसी एवं चौथम के कुल 5 मौजों में जमीन के किस्म निर्धारण हेतु विस्तृत जांच की गई और इस दौरान ड्रोन से फोटोग्राफी, वीडियोग्राफी और स्टील फोटोग्राफी भी कराई गई. इस दौरान मानसी के खिरनिया मौजा, चौथम के हरदिया, दिहरी, धमहारा एवं बुच्चा मौजा में समिति ने स्थलीय जांच किया. मौके पर अमीन एवं राजस्व कर्मचारी भी मौजूद थे और नक्शा में विनिर्दिष्ट खेसरा की जांच की गई. स्थलीय जांच के दौरान जिलाधिकारी ने समिति के सदस्यों को आवश्यक दिशा निर्देश देते हुए जांच प्रतिवेदन यथाशीघ्र प्रस्तुत करने का निर्देश दिया.

स्थलीय जांच के दौरान भूधारी एवं अन्य ग्रामीण उपस्थित थे. जिलाधिकारी ने स्थल पर मौजूद ग्रामीणों से समिति के सदस्यों के समक्ष पूछताछ की एवं विस्तृत जानकारी प्राप्त किया. साथ ही जमीन के मालिकों एवं जनप्रतिनिधियों से बातचीत कर फीडबैक प्राप्त किया. बताया जाता है जांच समिति से प्राप्त प्रतिवेदन के आधार पर जमीन के किस्म का निर्धारण करते हुए मुआवजा की दर निर्धारित की जाएगी.

स्थलीय जांच के दौरान समिति के सदस्य अपर समाहर्ता मोहम्मद राशिद आलम, उप विकास आयुक्त संतोष कुमार, जिला भू अर्जन पदाधिकारी तेज नारायण राय, जिला अवर निबंधक डॉक्टर यशपाल, बिहार स्टेट रोड डेवलपमेंट कॉरपोरेशन के प्रतिनिधि एवं अन्य संबंधित कर्मी उपस्थित थे.

Check Also

ट्रैक्टर पलटने से युवक की मौत, परिजनों में मचा कोहराम

ट्रैक्टर पलटने से युवक की मौत, परिजनों में मचा कोहराम

error: Content is protected !!