Breaking News

श्रीगुरु-व्यास पूर्णिमा महोत्सव का उद्घाटन करेंगे केन्द्रीय राज्य मंत्री अश्विनी कुमार चौबे

लाइव खगड़िया (मुकेश कुमार मिश्र) : बनारसी लाल सर्राफ वाणिज्य महाविद्यालय नवगछिया के प्रांगण में  12 एवं 13 जुलाई को श्री शिव शक्ति योग पीठ नवगछिया के तत्वाधान में आयोजित दो दिवसीय विराट श्रीगुरू -व्यास पूर्णिमा महोत्सव की तैयारी अंतिम चरण में है. बताया जाता है कि इस महाविद्यालय में दूसरी बार महोत्सव का आयोजन हो रहा है. 12 जुलाई को भव्य धर्म मंच का विधिवत उद्घाटन दीप प्रज्वलित कर केन्द्रीय राज्य मंत्री अश्विनी कुमार चौबे करेंगे. वहीं अध्यक्ष के रूप में प्रो डॉ उग्रमोहन झा ( पूर्व कुलपति प्रताप विश्व विद्यालय जयपुर), मुख्य अतिथि के रूप में उपमुख्यमंत्री तारकिशोर प्रसाद, अतिविशिष्ट अतिथि एमएलसी डॉ संजीव कुमार सिंह, विजय कुमार सिंह, पूर्व कुलपति तिलकामांझी भागलपुर विश्वविद्यालय एवं बीएन मंडल विश्वविद्यालय मधेपुरा प्रो डॉ अवध किशोर राय, विशिष्ट अतिथि के तौर पर संकाय अध्यक्ष हिन्दी विभाग साठ्ये महाविद्यालय मुम्बई, प्रो डॉ प्रदीप कुमार सिंह, भाजपा नेता अर्जित शाश्वत चौबे, पुलिस अधीक्षक नवगछिया सुशांत सरोज, सन्मार्ग के संपादक वृजेन्द दूवे, प्रो डॉ ज्योतिन्द् चौधरी, पूर्व रजिस्टार प्रो डॉ महावीर साह, गरिमामयी उपस्थित जदयू नवगछिया जिलाध्यक्ष चंद्रेश्वरी प्रसाद सिंह, भाजपा नवगछिया जिलाध्यक्ष विनोद मंडल, नवगछिया नगर अध्यक्ष प्रतिनिधि प्रेमसागर उर्फ डब्लू यादव, गुरु पूर्णिमा समिति सचिव डॉ मृत्यंजय सिंह गंगा, वरिय अधिवक्ता गोरखपुर न्यायालय रामानंद शुक्ल, बीएलएस महाविद्यालय के संस्थापक सचिव संतोष सर्राफ, प्रभारी प्राचार्य मो नईम उद्दीन, जी०बी० कालेज के पूर्व पुस्तकालय अध्यक्ष शिवशरण पोद्दार उपस्थित रहेंगे. उद्घाटन समारोह के बाद उपस्थित लोग अपन-अपने विचारों को व्यक्त करेंगे.


रविवार को महाविद्यालय के प्रांगण में एक समीक्षात्मक बैठक आयोजित किया गया. जिसकी अध्यक्षता कुंदन बाबा ने की. वहीं परमहंस स्वामी आगमानंद जी महाराज से लोगों ने आशीर्वाद प्राप्त किया.

दो दिवसीय गुरु पूर्णिमा महोत्सव का कार्यक्रम तीन मंच पर  आयोजित किया जाएगा. एक मंच पर दर्जन भर नामचीन संगीत कलाकार अपने मधुर कंठहार से लोगों को भक्ति संगीत से मंत्र मुग्ध करेंगे. वहीं दूसरे मंच पर परमहंस स्वामी आगमानंद जी महाराज आसन पर विराजमान रहेंगे तथा तीसरे मंच पर दर्जन भर विद्वान प्रवचनकर्ता द्वारा गुरु एवं शिष्य के मधुर प्रेम की व्याख्या बिंदु वार करेंगे. जबकि 13 जुलाई को संध्या की बेला में परमहंस स्वामी आगमानंद जी महाराज के मुखारबिंद से भक्तजन आशीर्वचन का रसपान करेंगे. इस महोत्सव में बाल नृत्यांगना सरस्वती  भारतीय संस्कृति की वेशभूषा धारण कर नृत्य पेश करेंगी. गुरु दर्शन के लिए महिला  एवं पुरुष के लिए अलग-अलग प्रवेश द्वार के साथ पंडाल का निर्माण किया जा है. श्री शिव शक्ति योग पीठ के स्वयंसेवक कार्य व्यवस्था को चुस्त-दुरुस्त करने में पूरी ताकत झोंक दी है.

Check Also

टल गया रेल हादसा, दुर्घटना होने से बाल-बाल बची वैशाली एक्सप्रेस

टल गया रेल हादसा, दुर्घटना होने से बाल-बाल बची वैशाली एक्सप्रेस

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: