Breaking News

महामूर्खों के सम्मेलन में खूब लगे ठहाके,पेट पकड़ दर्शक लोटपोट




लाइव खगड़िया : होली के अवसर पर बिहार नगर ग्राम कल्याण परिषद के तत्वावधान में बुधवार को 43वें फरकिया स्टेट महामूर्ख सम्मेलन का आयोजन स्थानीय श्यायलाल राष्ट्रीय उच्च विद्यालय में किया गया.कार्यक्रम का आयोजन दो सत्रों किया गया.इस दौरान चुनाव आदर्श आचार संहिता का भी ख्याल रखा गया.जबकि कार्यक्रम का उद्घाटन ताबे पर रखे भोथे हंसिया से लाल फीता को प्रद्युम्न कुमार, डॉ अरविन्द वर्मा, अरूण कुमार वर्मा, चम्पा राय, सुरेश पोद्दार, कैलाश झा किंकर, प्रमोद केडिया ने संयुक्त रूप से काट कर किया.

मौके पर आयोजन समिति के द्वारा सर्वसम्मति से प्रस्ताव पारित कर डीएम को इस वर्ष का सर्वश्रेष्ठ महामूर्खाधिराज की उपाधि से सम्मानित किये जाने की घोषणा की गई.साथ ही अन्य पदाधिकारियों, समाजसेवियों, कलाकारों, कवियों, पत्रकारों, व्यवसायियों, अधिवक्ताओं, डॉक्टरों, इंजीनियरों, प्रोफेसरों, शिक्षाविदों तथा प्रिंट व इलेक्ट्रॉनिक मीडिया कर्मियों को भी महामूर्खों की विभिन्न उपाधियों से विभूषित किया गया.

महामूर्खों के इस सम्मेलन में हास्य-व्यंग्य की प्रस्तुतियों को खूब सराहा गया.बीच-बीच में आयोजन समिति के अध्यक्ष व मंच संचालक डॉ अरविन्द कुमार वर्मा ठहाकों और चुटीले व्यंग वाणों से दर्शकों को गुदगुदाते रहे.इस दौरान प्रतिभागी बच्चों को पुरस्कृत भी किया गया.




कार्यक्रम मे कैलाश झा किंकर, रोसड़ा के अवधेश्वर प्रसाद सिंह, महिला कालेज के प्रोफेसर चंद्रिका प्रसाद सिंह विभाकर , मानसी के दीनानाथ, चम्पा राय, डॉ अरविन्द वर्मा, अरूण कुमार, सुखनंदन पासवान, सूर्य कुमार पासवान, अवधेश कुमार आशुतोष, विभा माधवी आदि कवि व लोकगायक अपनी-अपनी प्रस्तुति से चार चांद लगाते रहे.वहीं प्रख्यात गायक पवन सिंह के भाई पुरूषोत्तम सिंह के भोजपुरी गीत पर श्रोता झूम उठे.कार्यक्रम के संस्थापक व संयोजक अरूण कुमार वर्मा ने महामूर्ख सम्मेलन के सफरनामा के साथ मूर्खों की भाषा में उटपटांग भाषण पढ़ कर जब सुनाया तो लोगों के पेट में हंसते-हंसते बल पड़ गया.

कार्यक्रम को यादगार बनाने में डैनजर डांस कंपनी के पायल की देश भक्ति गीत, सिम्मी, आकाश शर्मा, विनोद जायसवाल, हुसैन अकरम , माइकल डांस एकेडमी के रॉकी, श्याम, रक्षा कुमारी, साहिल तथा हिमालय के द्वारा प्रस्तुत नृत्य व रिकार्डिंग डांस का अहम योगदान रहा.जबकि बांसुरी वादक प्रकाश चौरसिया की बांसुरी के धुन पर युवा नाचने को मजबूर हो गये.वहीं स्वागताध्यक्ष सुरेश पोद्दार ने सभी महामूर्खों तथा कलाकारों का स्वागत किया.

मौके पर विवेक भगत, विक्की भगत, डॉ  सुनील गुप्ता, हेल्थ काउंसलर अभिलाष, राजा वर्मा, घनश्याम प्रसाद, गौतम गुप्ता, उमेश यादव, मक्खन  साह, प्रेम कुमार यशवंत, नितिन कुमार चुन्नू तथा राकेश पासवान शास्त्री आदि उपस्थित थे.


Check Also

सार्वजनिक पुस्तकालय का शिलान्यास

सार्वजनिक पुस्तकालय का शिलान्यास

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: