Breaking News

लूट की बढ़ती घटना पर SP की नाराजगी,15 दिनों के अंदर कांडों के उद्भेदन का निर्देश




लाइव खगड़िया : पुलिस अधीक्षक मीनू कुमार की अध्यक्षता में सोमवार को योजना भवन में दिसंबर माह का अपराध गोष्ठी का आयोजन किया गया.मौके पर पुलिस अधीक्षक ने जिले में बढ़ती लूट की घटना पर नाराजगी व्यक्त करते हुए संबंधित थाना अध्यक्षों को 15 दिनों के अंदर उन सभी कांडों का उद्भेदन कर अभियुक्तों की गिरफ्तारी सुनिश्चित करने का निर्देश दिया.साथ ही उन्होंने सड़क पर वाहन लूट की घटना को भी गंभीरता से लेते हुए पसराहा, महेशखुंट थाना सहित गंगौर ओपी क्षेत्र में हुई लूट की घटना की समीक्षा करते हुए कांड के उद्भेदन में तकनीकी सेल का सहयोग लेने का निर्देश दिया.

जबकि एसपी ने गृहभेदन की घटना का उद्भेदन व सामान की बरामदगी पर संतोष व्यक्त करते हुए गिरोह के सभी सदस्यों का पूर्व के अन्य कांडों में संलिप्ता की जांच का आदेश देते हुए साक्ष्य पाये जाने पर संबंधित गिरोह के सदस्यों को रिमांड पर लेने का निर्देश दिया.

मौके पर एसपी ने नए प्रतिनियुक्त थानाध्यक्षों को संबोधित करते हुए कहा कि उनके कार्यों की समीक्षा कांडों के निष्पादन,वारंटी व अभियुक्त की गिरफ्तारी,अवैध शस्त्र व शराब की बरामदगी सहित आमजनों के साथ उनके व्यवहार के आधार पर की जाएगी और इन मापदंडों पर जो भी पदाधिकारी खरे नहीं उतरेंगे वे आगे उस पद पर बने नहीं रह सकते हैं. 

वहीं पुलिस कप्तान ने आगामी लोकसभा चुनाव के समय क्रियान्वयन के संबंध में थानाध्यक्ष को निर्देशित करते हुए कहा कि थाना क्षेत्र पड़ने वाले सभी बूथों का भौतिक सत्यापन,वहां पहुंचने के राह व मोबाइल नेटवर्क की उपलब्धता की स्थिति सहित संवेदनशीलता की समीक्षा कर प्रतिवेदन समर्पित करें.ताकि इस दिशा में अग्रतर कार्रवाई की जा सके.

साथ ही चुनाव के मद्देनजर अभियान चलाकर सभी वारंटियों की गिरफ्तारी सुनिश्चित करने का निर्देश देते हुए एसपी ने कहा कि 6 माह से अधिक अवधि तक फरार रहे वारंटियों का नाम मतदाता सूची से अलग करने के लिए प्रतिवेदन समर्पित करें.जबकि शस्त्र अनुज्ञप्तिधारियों के शस्त्रों का सत्यापन तथा शस्त्र जमा करने की प्रक्रिया में तेजी लाने को भी कहा गया.वहीं चुनाव के मौके पर शराब और अवैध हथियार के उपयोग की संभावनाओं को देखते हुए सभी थानाध्यक्ष को अपर पुलिस अधीक्षक (अभियान) के नेतृत्व में दियारा इलाके में एरिया डोमिनेशन की कार्रवाई करते हुए शराब कारोबारियों और अवैध हथियार रखने वाले की गिरफ्तारी सुनिश्चित करने का निर्देश सभी थानाध्यक्षों को दिया गया.

जबकि पुलिस उपाधीक्षकों को आद्तन अपराधियों को चिन्हित करने का निर्देश दिया गया.ताकि उनके विरूद्ध सीसीए लागू किया जा सके.इस क्रम में चुनाव के अवसर पर 500 लोगों के विरुद्ध सीसीए का प्रस्ताव समर्पित करने का लक्ष्य रखा गया.मौके पर अपर पुलिस अधीक्षक (अभियान) राजकुमार राज सहित पुलिस उपाधीक्षक (मु.),अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी,पुलिस निरीक्षक व जिले के सभी थानाध्यक्ष मौजूद थे.

Check Also

जदयू कार्यकर्ताओं ने निकाला सतर्कता एवं जागरूकता मार्च

जदयू कार्यकर्ताओं ने निकाला सतर्कता एवं जागरूकता मार्च

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: