Breaking News

एक मुलाकात व चर्चाएं तेज, LJP(R) में चिराग कर पायेंगे एक नई परंपरा की शुरूआत !

लाइव खगड़िया : लोजपा पारस गुट के सांसद चौधरी महबूब अली कैसर का लोजपा (रा) सुप्रीमो चिराग पासवान से मुलाकात की खबरों के साथ जिले की सियासत गर्म हो चली है. गौरतलब है कि चौधरी महबूब अली कैसर खगड़िया के सांसद है और अगले साल लोक सभा का चुनाव भी होना है. ऐसे में इस मुलाकत को चुनावी राजनीति से जोड़ कर देखा जाने लगा है. वैसे भी लोजपा पूर्व के चुनावों में टिकट वितरण प्रणाली को लेकर बदनाम रही है और पार्टी का शीर्ष नेतृत्व संगठन के कार्यकर्ताओं की अवहेलना कर चुनाव के दौरान उम्मीदवार अन्य दलों से इंपोर्ट करती रही है. हलांकि अब लोजपा दो हिस्सों में बंट चुका है और एक गुट का नेतृत्व पार्टी के संस्थापक पूर्व मंत्री रामविलास पासवान के भाई पशुपति कुमार पारस कर रहें हैं. जबकि दूसरा गुट रामविलास पासवान के पुत्र चिराग पासवान के नेतृत्व में संगठित है. बात यदि जिले में जमीनी स्तर पर दोनों ही गुटों की सक्रियता की करें तो चिराग पासवान की लोजपा (रा) पशुपति पारस की राष्ट्रीय लोक जनशक्ति पार्टी से आगे निकल चुकी है. उल्लेखनीय है कि लोजपा में फूट पड़ने के बाद चिराग पासवान ने जिले की कमान शिवराज यादव को सौंप दी थी और शिवराज यादव लोजपा (रा) के जिलाध्यक्ष है. एक जिलाध्यक्ष के तौर पर शिवराज यादव लगातार संगठन के विस्तार को लेकर सक्रिय रहे. इस बीच वे एक फायर ब्रांड नेता के तौर पर भी उभरते गए और विभिन्न राजनीतिक व सामाजिक मुद्दों पर अपनी सख्त तेबर से चर्चाओं में रहे हैं.

लोजपा (रा) 2024 के चुनाव को लेकर जिले में सक्रिय है और पार्टी के जिलाध्यक्ष शिवराज यादव की मानें तो गठबंधन का स्वरूप जैसा भी हो, आगामी लोकसभा चुनाव में लोजपा (रा) खगड़िया संसदीय सीट पर अपना उम्मीदवार देगी. ऐसे में राजनीतिक गलियारें में पार्टी के संभावित प्रत्याशी को लेकर भी चर्चाएं शुरू हो गई है और सांसद चौधरी महबूब अली कैसर का लोजपा (रा) के राष्ट्रीय अध्यक्ष चिराग पासवान के मुलाकात के सियासी मायने निकाला जाने लगा है. बात यदि संगठन के आंतरिक संभावित प्रत्याशियों की करें तो लोजपा (रा) के जिलाध्यक्ष शिवराज यादव एवं पार्टी की नेत्री रेणू कुशवाहा के नामों की चर्चाएं हैं. वैसे भी दोनों ही चुनावी राजनीति के जातिय समीकरण में भी फिट नजर आ रहे हैं. लोकसभा के विगत चुनाव में खगड़िया संसदीय सीट से परबत्ता विधायक डा संजीव कुमार के नाम की चर्चाएं भी लोजपा उम्मीदवार के तौर पर काफी तेज रही थी. इधर चर्चित पूर्व विधायक रणवीर यादव ने भी अपनी पत्नी जिला परिषद अध्यक्ष कृष्णा कुमारी यादव की उम्मीदवारी के लिए हर विकल्प को खोल कर रखा है. रणवीर यादव का भी चिराग पासवान से मुलाकात की तस्वीरे सोशल मीडिया पर वायरल है. बहरहाल गेंद अब लोजपा (रा) के राष्ट्रीय अध्यक्ष चिराग पासवान के पाले में है. लेकिन संगठन के कार्यकर्ताओं की भावनाओं का कद्र करते हुए खगड़िया सीट के लिए लोजपा (रा) के उम्मीदवार का चयन उनके लिए भी बहुत आसान नहीं रहने वाला है.

Check Also

खगड़िया संसदीय सीट पर लोजपा (रा) की नजर, लोकसभा स्तरीय बैठक आयोजित

खगड़िया संसदीय सीट पर लोजपा (रा) की नजर, लोकसभा स्तरीय बैठक आयोजित

error: Content is protected !!