Breaking News

वन विभाग की तिरछी नजर, रूका अगुआनी – सुल्तानगंज पुल का निर्माण कार्य

लाइव खगड़िया (मुकेश कुमार मिश्र) : अगुआनी – सुल्तानगंज पुल निर्माण कार्य पर वन विभाग की तिरछी नजर पड़ी है और निर्माण कार्य पर रोक लगा दिया गया है. साथ ही कार्य करा रहे एजेंसी के विरुद्ध डीएफओ कोर्ट में वाद दायर किया है. वन विभाग ने डॉल्फिन अभयारण्य के लिए घोषित नोटिफाइड एरिया में निर्माण कार्य के लिये अब तक एनओसी नहीं लेने का आरोप लगाया है. उल्लेखनीय है कि डॉल्फिन राष्ट्रीय जलीय जीव की श्रेणी में आता है और सुल्तानगंज से लेकर कहलगांव तक गंगा नदी का यह भाग इसके अभयारण्य के लिए सुरक्षित माना जाता है. ऐसे में जलीय जीव की सुरक्षा को लेकर वन विभाग ने तत्परता दिखाई है और वन विभाग के इस फैसले के बाद पुल निर्माण कार्य पर फिलहाल ब्रेक लग गया है.

मामले को लेकर एसपी सिंगला निर्माण कंपनी के अधिकारी का कहना है कि वन विभाग से एनओसी लेना बिहार राज्य पुल निगम का मसला है. जबकि जानकारों का कहना है कि बीते करीब 7 वर्षों से पुल निर्माण का कार्य चल रहा था और अब वन विभाग को बरसों बाद जलीय जीव की सुरक्षा का ख्याल आया है.

इधर वन विभाग के दखल के बाद जहां पुल निर्माण की प्रक्रिया फिलहाल कुछ समय के लिए थम गया है. ऐसे में साल के अंत तक अगुआनी -सुल्तानगंज फोरलेन पुल पर आवागमन बहाल करने का निर्धारित लक्ष्य को लेकर आशंकाएं व्यक्त की जाने लगी है. हलांकि परबत्ता विधायक डॉ संजीव कुमार की सरकार के इस ड्रीम प्रोजेक्ट पर पैनी नजर है और वे पुल निर्माण कार्य में हो रहे विलंब को लेकर सदन में आवाज उठाते रहे हैं. बीते बुधवार को भी उन्होंने विधानसभा में पुल निर्माण से जुड़े प्रक्रियाओं की धीमी गति पर सवाल उठाते हुए पूछा था कि 7 वर्षों से चल रहे पुल निर्माण का कार्य कब पूरा होगा. जबकि 2021 के अंत एवं फिर 2022 के अंत में निर्माण कार्य पूर्ण होने का आश्वासन पूर्व में उन्हें सदन के माध्यम से मिल चुका है. जिसके जवाब में बिहार के उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ने बताया था कि पुल निर्माण कार्य 2023 के अंत तक पूरा कर लेने का लक्ष्य है. हलांकि अभी भी बड़े पैमाने पर कार्य किया जाना बांकी है. दूसरी तरफ वन विभाग का नया पेंच सामने आ गया है और इसका असर पुल निर्माण के नये लक्ष्य की समय सीमा पर भी पड़ सकता है. इधर वन विभाग के एनओसी के मुद्दे पर एसपी सिंगला निर्माण कंपनी के प्रोजेक्ट डायरेक्टर आलोक कुमार झा ने बताया है कि वन विभाग द्वारा जारी निर्देशों के तहत मुख्यधारा पर पुल निर्माण कार्य पूरी तरह से बंद है और एनओसी लेने के लिए पुल निगम प्रयास कर रही है.

Check Also

सोशल मीडिया पर अवैध हथियार का प्रदर्शन पड़ा महंगा, दो की गिरफ्तारी

सोशल मीडिया पर अवैध हथियार का प्रदर्शन पड़ा महंगा, दो की गिरफ्तारी

error: Content is protected !!