Breaking News

प्रकृति के सत्य का अध्ययन ही विज्ञान और प्रकृति ही सीखने की सबसे अच्छी प्रयोगशाला

लाइव खगड़िया : जिले के सदर प्रखंड के आवास बोर्ड के राजमाता माधुरी देवी टीचर ट्रेनिंग कॉलेज में शिक्षेत्र कर्मचारी के नियोजन के लिए आयोजित कार्यक्रम में डॉ राकेश कुमार (विभागाध्यक्ष नैनो टेक्नोलॉजी केंद्र) एवं कुलसचिव आर्यभट्ट ज्ञान विश्वविद्यालय पटना व स्वदेशी कॉलेज ऑफ एजुकेशन के प्राचार्य डॉक्टर निरंजन सिंह ने छात्र अध्यापक एवं छात्र अध्यापिकाओ को संबोधित करते किया. वहीं डॉक्टर निरंजन सिंह ने बताया कि डॉ राकेश कुमार सिंह भौतिक विज्ञान के प्रोफ़ेसर रहे हैं तथा वर्तमान समय में नैनो टेक्नोलॉजी केंद्र आर्यभट्ट ज्ञान विश्वविद्यालय के विभागाध्यक्ष हैं. जिनके द्वारा करीब 150 से ज्यादा रिसर्च पेपर प्रकाशित किया गया और उन्हें कई राष्ट्रीय एवं अंतरराष्ट्रीय अवार्ड से सम्मानित किया गया है. साथ ही उनके सहयोग से आर्यभट्ट ज्ञान विश्वविद्यालय में नैनो टेक्नोलॉजी रिसर्च के लिए लगभग 25 करोड़ की लागत से एक लैब स्थापित किया गया है.

मौके पर संबोधित करते हुए डॉ राकेश कुमार सिंह ने कहा कि जो इनोवेटिव होते हैं उसके रोजगार की चिंता ईश्वर करते हैं. प्रकृति के सत्य का अध्ययन ही विज्ञान है और प्रकृति ही किसी विषय को सीखने की सबसे अच्छी प्रयोगशाला है. कार्यक्रम के अंत में कुलसचिव ने हर घर तिरंगा कार्यक्रम को लेकर कॉलेज के छात्र अध्यापक एवं छात्र अध्यापिकाओं के जुलूस को तिरंगा झंडा दिखाकर क्षेत्र भ्रमण के लिए रवाना किए.

बताया जाता है कि कॉलेज के छात्र अध्यापकों के द्वारा लगभग 500 घरों को तिरंगा झंडा भेंट कर उसको अपने घर पर लगाने का आग्रह किया गया. साथ ही हर घर तिरंगा योजना को जन-जन तक पहुंचाने का संकल्प लिया गया.

इस अवसर पर कॉलेज के चेयरमैन डॉ रीना कुमारी रूबी, संरक्षक डॉ स्वामी विवेकानंद, प्राचार्य डॉ इंद्रजीत, प्रो अजय कुमार यादव, प्रीति कुमारी, प्रो शोभा कुमारी, प्रो बिंद बहादुर कुशवाहा, प्रो अजीत, प्रदीप कुमार, प्रो डॉ इंद्रजीत, प्रो हरीश किशोर ठाकुर, प्रो शशि भूषण कुमार आदि उपस्थित थे.

Check Also

शिक्षा मंत्री के खिलाफ खगड़िया व गोगरी कोर्ट में परिवाद दायर

शिक्षा मंत्री के खिलाफ खगड़िया व गोगरी कोर्ट में परिवाद दायर

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: