Breaking News

शहीद कैप्टन आनंद के गांव का 5वें दिन भी रहा माहौल गमगीन, बेटे की तस्वीर को निहारती रही मां

लाइव खगड़िया (मुकेश कुमार मिश्र) : शहीद कैप्टन आनंद के पैतृक गांव शिरोमणि टोला नयागांव का माहौल पांचवें दिन भी गमगीन रहा. गांव के चौपाल से लेकर खेत-खलियान तक आनंद के बचपन से लेकर सैन्य अधिकारी बनने तक के किस्से चर्चाओं में रहा. इस दौरान उनको याद कर कई की आंखें नम हो जा रही थी.

उधर शहीद के घर पर एक अजीब सा सन्नाटा पसरा था. वहीं शहीद कैप्टन आनंद की मां ममता देवी कभी अपने आंचल से अपने बेटे की तस्वीर को पोछती तो कभी बेटे की तस्वीर को अपने सीने से लगाकर चित्कार मारने लगती. इस दौरान उनके पति मधुकर सनगही सहित घर के अन्य सदस्य अपने कलेजे पर पत्थर रखकर उनकों दिलासा देने के प्रयास में करते रहे. लेकिन मां की ममता रह-रह कर हिलोरे मारती रही.

देश सेवा में अपने प्राणों की आहुति देने वाले राजपूताना राइफल के कैप्टन आनंद भले ही आज इस दुनिया में नहीं रहे, लेकिन उनकी शहादत को कभी भुलाया नहीं जा सकता है और वे सदैव जिले के लोगों के दिलों में जिन्दा रहेंगे.

Check Also

एक झपकी लगी और उजड़ गई दुनिया, किसी घर का बुझा चिराग तो किसी का उजड़ा सुहाग

एक झपकी लगी और उजड़ गई दुनिया, किसी घर का बुझा चिराग तो किसी का उजड़ा सुहाग

error: Content is protected !!