Breaking News

अग्निपथ योजना वापस होने तक जारी रहेगा आंदोलन : पप्पू यादव

लाइव खगड़िया : “सरकार हमेशा ऐसे लोगों को टारगेट करती है, जो आमजन की आवाज बनकर सरकार की खामियों को उजागर कर जनहित में कदम उठाने हेतु उन्हें आईना दिखाता है. यह ही कार्य बिहार सरकार के इशारे पर उनके साथ हुआ और खगड़िया विधानसभा क्षेत्र के मथार गांव में चुनाव प्रचार के दौरान आचार संहिता का मुकदमा दायर किया गया. यदि उनका कार्यक्रम असंवैधानिक था तो उसी वक्त तैनात मजिस्ट्रेट एवं पुलिस बल के द्वारा हेलीकॉप्टर को जब्त कर लिया जाना चाहिए था और उन्हें कार्यक्रम करने से ही रोक दिया जाना चाहिए था”.

यह बातें जाप के राष्ट्रीय अध्यक्ष व पूर्व सांसद राजेश रंजन उर्फ पप्पू यादव ने खगड़िया व्यवहार न्यायालय में आचार संहिता के एक मामले में जमानत के पश्चात जिला अतिथि गृह में प्रेस वार्ता के दौरान कही. वहीं उन्होंने कहा कि नरेंद्र मोदी की सरकार विदेश नीति में पूर्णत: असफल रही है. उन्होंने अग्निपथ योजना का विरोध करते हुए इसे वापस लेने की मांग सरकार से किया.

मौके फर पप्पू यादव ने सांसदों एवं विधायकों से आग्रह करते हुए कहा कि जो लोग सेना के पेंशन का विरोध कर रहे हैं, सबसे पहले उन्हें अपना पेंशन बंद करने की घोषणा करना चाहिए. साथ ही उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी एवं रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह से अग्निपथ योजना को अविलंब वापस लेने एवं अवकाश प्राप्त सेना को 25-30 हजार का पेंशन देने की मांग की. साथ ही सेना से वापस आने पर देश एवं राज्य के किसी भी क्षेत्रों में उन्हें नियमित सरकारी नौकरी देने की मांग उठाते हुए कहा कि ऐसा नहीं करने पर जाप अग्निपथ योजना वापस होने तक आंदोलन करती रहेगी. वहीं पप्पू यादव ने भाजपा सरकार को उद्योगपतियों की सरकार बताते हुए कहा कि सिर्फ धनबल के बूते महाराष्ट्र सरकार को अपदस्थ किया गया है और भाजपा की मंशा है कि देश के अंदर क्षेत्रीय पार्टी को समाप्त कर एक आधिपत्य स्थापित करना. उन्होंने भाजपा व जदयू सरकार पर हमला बोलते हुए कहा कि वर्तमान समय में यह सरकार डायलिसिस पर चल रहा हैत्र. पप्पू यादव ने बिहार सरकार की कार्यप्रणाली पर सवाल उठाया.

प्रेस वार्ता में युवा शक्ति के कार्यकारी राष्ट्रीय अध्यक्ष नागेंद्र सिंह त्यागी, जाप के जिला अध्यक्ष कृष्णानंद यादव, जन अधिकार युवा परिषद के जिला अध्यक्ष अभय कुमार गुड्डू, जाप के प्रदेश सचिव बोढ़न सदा, जन अधिकार युवा परिषद के प्रदेश उपाध्यक्ष आशुतोष यादव, युवा शक्ति के कार्यकारी जिलाध्यक्ष मिथुन शर्मा, जन अधिकार छात्र परिषद के प्रदेश सचिव अंकित कुमार, छात्र नेता झलेंद्र यादव, युवा शक्ति के जिला महासचिव अजीत कुमार पप्पू, मो. आलम राही, जिला उपाध्यक्ष मनीष कुमार, अशोक पंत, जवाहर यादव, कवि रंजन यादव, सतीश सिंह, ओनम सिंह, नीतीश यादव, धीरज यादव, छात्र नेता सुमित यादव, धर्मेंद्र यादव, अर्जुन यादव, संजय जयसवाल, रतन सिंह, रूपेश कुमार आदि उपस्थित थे.

Check Also

बहुत आसान नहीं लोजपा के किले को भेदना, अतीत के आंकड़े बहुत कुछ बता रहा

बहुत आसान नहीं लोजपा के किले को भेदना, अतीत के आंकड़े बहुत कुछ बता रहा

error: Content is protected !!