Breaking News

जीएन बांध पर प्रोटेक्शन वॉल निर्माण कार्य का अधीक्षण अभियंता ने किया निरीक्षण

लाइव खगड़िया (मुकेश कुमार मिश्र) : जल संसाधन विभाग द्वारा गोगरी-नारायणपुर तटबंध को गंगा की संभावित बाढ से बचाने की कवायद शुरू कर दी गई है. गौरतलब है कि विगत वर्ष गंगा की बाढ़ का पानी गोगरी-नारायणपुर तटबंध के उपर से बहने लगी थी. हलांकि बाढ़ प्रमंडल अभियंता, जिला व स्थानीय प्रशासन एवं ग्रामीणों के सहयोग से बांध को बचा लिया गया था. लेकिन इस दौरान लोगों के बीच हाय तौबा मच गई थी. उस वक्त स्थानीय विधायक डॉ संजीव कुमार के विशेष आग्रह पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने गोगरी – नारायणपुर तटबंध का निरीक्षण भी किया था तथा स्थानीय विधायक ने मुख्यमंत्री से जिले के लाइफ़ लाइन गोगरी-नारायणपुर बांध को चुस्त दुरुस्त करने की मांग रखी थी. जिसके बाद मुख्यमंत्री के निर्देश पर जल संसाधन विभाग बांध को चुस्त दुरुस्त करने के लिए कवायद शुरू कर दी है.

बाढ़ प्रमंडल डीविजन -1 के अधीक्षण अभियंता सत्यजीत एवं कनीय अभियंता नागेन्द्र कुमार ने बताया है कि गोगरी-नारायणपुर तट बंध को प्रोटेक्शन वॉल, जिओ बेग एवं गेबियन से मजबूत किया जाएगा. जिसको लेकर कार्य शुरू कर दिया गया है. प्रथम चरण में दुधैला के समीप 500 मीटर, बिशौनी गांव के समीप 75 मीटर, स्लूईस गेट के समीप 25 मीटर तटबंध के उपर एक मीटर ऊंचा प्रोटेक्शन वॉल (कंक्रीट दीवार) का निर्माण किया जाएगा. जिसमें दुधैला के इधर से लगभग 250 मीटर का कार्य हो चुका है. जबकि जिओ बैग, स्लोपिंचिंग, गेबियन का कार्य 40 मीटर बिशौनी गांव के समीप , दुधैला के समीप 30 मीटर, स्लूईस गेट के समीप 150 मीटर एवं नयागांव के समीप 40 मीटर कार्य किया जाना है. कनीय अभियंता की मानें तो बाढ़ के दौरान जहां -तहां गोगरी-नारायणपुर तटबंध कमजोर हो चुका था. उस जगह को विभाग द्वारा चिन्हित किया गया है तथा सुरक्षात्मक कार्य 15 जून तक खत्म करने का निर्देश गया है. मंगलवार को अधीक्षण अभियंता सत्यजीत ने प्रोटेक्शन वॉल निर्माण कार्य का निरीक्षण किया तथा कनीय अभियंता निर्देश देते हुए कहा कि प्रोटेक्शन वॉल का टॉप एक समान होनी चाहिए. साथ ही उन्होंने गुणवत्ता में कोताही बर्दास्त नहीं होने की बातें कही और बताया कि दृष्टि ऐप के जरिए विभाग लगातार मॉनिटरिंग कर रहा है.

इधर स्थानीय विधायक डॉ संजीव कुमार ने बताया हे कि गोगरी-नारायणपुर तटबंध की हालत मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने संज्ञान लिया है. जिसके बाद जल संसाधन विभाग के द्वारा बांध को चुस्त दुरुस्त किया जा रहा है. साथ ही उन्होंने कहा कि उन्होंने मुख्यमंत्री के समक्ष बांध को मजबूत करने का प्रस्ताव रखा था. जिसपर सीएम ने संज्ञान लिया है और कार्य चल रहा है. विधायक ने कहा है कि गोगरी-नारायणपुर तटबंध पर से अतिक्रमण को भी हटाया जायेगा.

Check Also

ट्रैक्टर पलटने से दो बच्चों की दर्दनाक मौत, आधा दर्जन श्रद्धालु घायल

ट्रैक्टर पलटने से दो बच्चों की दर्दनाक मौत, आधा दर्जन श्रद्धालु घायल

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: