Breaking News

पशु हो गया है भंजहा रोग का शिकार तो वैक्सीनेशन के लिए इस नंबर पर करें संपर्क

लाइव खगड़िया : दुधारू पशुओं में भंजहा (एफएमडी) बीमारी के प्रसार को रोकने के लिए रिंग वैक्सीनेशन किया जा रहा है और अगले माह तक 90 प्रतिशत दुधारू पशुओं को वैक्सीन देने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है. गौरतलब है कि पशुओं में फैली रही फुट एंड माउथ डिजीज (FMD) को स्थानीय भाषा में “भंजहा” कहा जाता है. इस बीमारी को नियंत्रित करने के लिए टीकाकरण का कार्य जिले के बेलदौर प्रखंड छोड़कर शेष प्रखंडों में पशुपालन विभाग के द्वारा कराया जा रहा है.

जिला पशुपालन पदाधिकारी डॉक्टर मोइनुद्दीन ने बताया है कि जिला में भंजहा (FMD) फैलने की सूचना प्राप्त होते ही इसके वैक्सीन की 50000 डोज रिंग वैक्सीनेशन के लिए उपलब्ध कराया जा चुका है. इस बीमारी के बेलदौर को छोड़कर जिले के शेष प्रखंडों में प्रसार की सूचना प्राप्त हुई है. जिसके प्रसार को नियंत्रित करने के लिए रिंग वैक्सीनेशन कराया जाता है. साथ ही उन्होंने बताया कि रिंग वैक्सीनेशन जिले के 6 प्रखंडों के लगभग 40 पंचायतों में किया जा रहा है.

मौके पर जिला पशु पदाधिकारी ने बताया कि जिले को अप्रैल माह के अंत तक FMD वैक्सीन की तीन लाख डोज प्राप्त होने की सूचना है. जिससे जिले में लगभग 90 प्रतिशत गाय और भैंस का टीकाकरण संभव हो जाएगा. बताया जाता है कि इस बीमारी से पशुओं के मुंह में छाले और पैर में जख्म हो जाता है. जिसके कारण दुधारू पशु दूध देना कम कर देती है और पशुपालकों को आर्थिक नुकसान उठाना पड़ता है. कहा जाता है कि FMD टीकाकरण के उपरांत पशुओं में इस बीमारी से लड़ने की क्षमता बढ़ जाती है.

वहीं बताया गया कि FMD वैक्सीनेशन अभियान को लेकर भ्रमणशील पशु चिकित्सा पदाधिकारी (चलंत) डॉक्टर नीरज कुमार सिंह को जिला नोडल पदाधिकारी बनाया गया है. जिनके मोबाइल नंबर 7013873172 पर पशुपालक रिंग वैक्सीनेशन हेतु संपर्क कर सकते हैं. साथ ही अभियान को लेकर जिला पशुपालन कार्यालय में कंट्रोल रूम भी स्थापित किया गया है.

Check Also

स्वच्छ विद्यालय पुरस्कार के लिए चयनित 27 स्कूलों के प्रधान कल होंगे सम्मानित

स्वच्छ विद्यालय पुरस्कार के लिए चयनित 27 स्कूलों के प्रधान कल होंगे सम्मानित

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: