Breaking News

गंगा के जलस्तर में वृद्धि से पुल निर्माण कार्य की रफ्तार पड़ी धीमी




लाइव खगड़िया (मुकेश कुमार मिश्र) : गंगा की जलस्तर में वृद्धि के कारण अगुवानी – सुल्तानगंज  गंगा नदी के बीच बन रहे फोर लेन पुल का निर्माण कार्य धीमा पड़ गया है. पुल निर्माण कंपनी के कर्मी गंगा की मुख्य धारा में चल रहे निर्माण कार्य स्थल से उपकरणों को हटाने का काम शुरु कर दिया है. बताया जाता है कि अब सिर्फ रिंग बांध के अंदर के हिस्से में पुल निर्माण का काम धीमी गति से चलेगा.

विगत कुछ सप्ताह से गंगा के जलस्तर में हुई वृद्धि से रिंग बांध के बाहर के पिलर के उपर का कार्य ठप है. जिसको लेकर निर्माण कंपनी केअधिकारियों का कहना है कि जलस्तर के घटने के बाद ही गंगा की मुख्य धारा में बनाये जा रहे पिलरों के उपर कार्य शुरू हो सकेगा. बताया जाता है कि पुल में कुल 45 पिलरों का निर्माण कार्य पूर्ण हो चुका है. इस बीच निर्माण का कार्य रात में लाईट जलाकर भी कराया गया. तीन किलोमीटर से अधिक लंबे इस पुल के निर्माण के दौरान हर वर्ष गंगा में पानी बढ़ने के कारण दो से तीन माह तक निर्माण कार्य पर असर पड़ता रहा है.





एस पी सिंगला कंस्ट्रक्शन कंपनी के प्रोजेक्ट डाईरेक्टर ईं आलोक झा ने बताया कि गंगा की मुख्य धारा में तीन किलोमीटर पुल का निर्माण होना है. जिसमें से 1700 मीटर का कार्य पूर्ण हो चुका है. जबकि 1300 मीटर कार्य बांकी है. फिलहाल पाया नम्बर 7 से 15 तक का कार्य पूर्ण रूप से ठप है. जबकि पाया नम्बर 1 से 6 एवं 16 नम्बर पर कार्य चल रहा है. साथ ही पुल संपर्क पहुंच पथ पर पुल पुलिया का निर्माण कार्य चल रहा है. साथ ही उन्होंने बताया कि बारिश से पहुंच पथ पर मिट्टी भराई के कार्य पर भी असर पड़ा है. गौरलतब है कि इस वर्ष गंगा के जलस्तर में वृद्धि की शुरुआत जून महीने से ही हो गई. हलांकि कंपनी के अधिकारियों का दावा है कि जलस्तर बढ़ने के बाद भी कास्टिंग यार्ड मे काम जारी रहेगा.

Check Also

परबत्ता विधानसभा के हर क्षेत्र में हो रहा तरक्की : विधायक

परबत्ता विधानसभा के हर क्षेत्र में हो रहा तरक्की : विधायक

error: Content is protected !!