Breaking News

बाढ़ पीड़ितों के लिए पूर्व जिप अध्यक्ष ने किया नाव व भोजन व्यवस्था की मांग




लाइव खगड़िया : “कोरोना संक्रमण के बढते मामले के बीच जिलेवासी पहले से ही परेशान हैं और ऊपर से कोसी और बागमती नदी के जलस्तर में वृद्घि से जिले के उत्तरी भाग का गांव जलमग्न हो गया है. दूसरी तरफ आपदा की इस घडी में प्रशासन लोगों केसजानमाल की रक्षा करने की जगह सिर्फ खानापूर्ति कर अपनी जिम्मेदारी से मुक्त हो जाना चाहती है.”

उक्त बातें जिला परिषद के पूर्व अध्यक्ष सह लोकसभा चुवाव के पूर्व प्रत्याशी की कृष्णा कुमारी यादव ने प्रेस विज्ञप्ति जारी करते हुए कहा है. उन्होंने कहा है कि नियमतः जिला आपदा प्रबंधन समिति को बाढ़ केवपूर्व तैयारी करनी चाहिए और बड़ी नाव, भोजन, बच्चे के दूध, महिला- पुरुष के वस्त्र, माचीस , जलावन की व्यवस्था करनी चाहिये थी. ताकि जरूरत पड़ने पर आमजनों को सुविधा अविलंब मिल सके. लेकिन ऐसा हो नहीं सका और राहत सुविधा में विलंब हो रहा है.

जिप के पूर्व अध्यक्ष ने सदर प्रखंड के माड़र उत्तर के बेलोर, छमसिया, सोहरी, बोचघसका, कामाथान, सिमराहा, मधुरा, मोरकाही, और मानसी प्रखण्ड अंतर्गत अमनी पंचायत के हियादपूर में बाढ़ प्रभावित परिवारों के आवाजाही हेतु बड़ी नावें की अविलंब व्यवस्था करने की मांग किया है. साथ ही उन्होंने जिला प्रशासन से बाढ़ से प्रभावित परिवारों को भोजन व पशुओं का चारा उप्लब्ध कराने की मांग किया है.

Check Also

महाविद्यालयों से विद्यालयों में इंटर छात्रों के स्थानांतरण की कवायद पर आक्रोश

महाविद्यालयों से विद्यालयों में इंटर छात्रों के स्थानांतरण की कवायद पर आक्रोश

error: Content is protected !!