Breaking News

फाइलेरिया की दवा खाने के बाद उल्टी,‌ पेट दर्द या चक्कर आना परजीवी मरने का संकेत : डॉ कशिश

लाइव खगड़िया (मुकेश कुमार मिश्र) : जिले के परबत्ता प्रखंड के मध्य विद्यालय हरिणमार एवं मध्य विद्यालय बेलहर भरतखंड में फाइलेरिया की दवा खाने से कुछ बच्चों के बीमार होने की खबर हैं. बताया जाता है कि बीमार बच्चों को‌ सिर दर्द और उल्टी,नींद आने की शिकायत है. मामले पर स्कूल के प्रधानाध्यापक मृत्युंजय कुमार ने बताया है कि वर्ग एक, दो एवं तीन के छात्र व छात्रा दवाई खाने के बाद उल्टी, नींद आने की शिकायत करने लगे. जिसके बाद शिक्षक के द्वारा उन्हें ओआरएस का घोल पिलाया गया और‌ कुछ देर बाद सभी बच्चे की स्थिति में सुधार हो गया. लेकिन आदित्य कुमार को उनके परिजन ने सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र परबत्ता में भर्ती कराया है. उधर मध्य विद्यालय बेलहर भरतखंड की छात्रा सुनिता कुमारी को भी अस्पताल में भर्ती कराया गया‌ है. बच्चों का इलाज कर रहे डॉक्टर ने बताया है कि बच्चे खतरे से बाहर हैं.

बताते चले कि 10 फरवरी से 25 फरवरी फाइलेरिया उन्मूलन कार्यक्रम के तहत विभिन्न सरकारी स्कूलों में फाइलेरिया की दवा खिलाई जा रही है. जिसमें से कुछ बच्चों के बीमार हो जाने की जानकारी मिल रही है. मामले पर सी॓एचसी प्रभारी डॉक्टर कशिश राय ने बताया है‌कि फाइलेरिया की दवा खाने के बाद उल्टी,‌ पेट दर्द या चक्कर आने पर लोगों को घबराना नहीं चाहिए. यह फाइलेरिया परजीवी के मरने की शुभ संकेत है. साथ ही उन्होंने बताया कि फाइलेरिया रोधी दवा गुणवत्ता एवं प्रभाव स्तर पूर्णत: सुरक्षित है. जिन बच्चों में दवा सेवन के बाद उल्टी, चक्कर या पेट में दर्द जैसी शिकायत आती है, उस क्षेत्र में फाइलेरिया परजीवी का संक्रमण होने की पुष्टि होती है. दवा सेवन के बाद अगर किसी तरह की शारीरिक शिकायत होती है तो स्पष्ट है कि शरीर में फाइलेरिया परजीवी मौजूद है.

Check Also

सीओ के तौर पर विनीता ने ग्रहण किया पदभार

सीओ के तौर पर विनीता ने ग्रहण किया पदभार

error: Content is protected !!