Breaking News

पुल निर्माण कार्य में लगा युवक लापता, डूबने की आशंका

लाइव खगडिया (मुकेश कुमार मिश्र) : जिले के परबत्ता प्रखंड के अगुआनी घाट पर रविवार को निर्माणाधीन पुल के पिलर संख्या 11 के पास एक युवक गंगा की तेज धारा में समा गया. लापता युवक सियादतपुर अगुआनी पंचायत के डुमरिया बुजुर्ग नवटोलिया निवासी सुदामा यादव का पुत्र 32 वर्षीय ब्रजेश कुमार बताया जाता है. घटना की जानकारी मिलते ही परिजन एवं आसपास के लोग गंगा तट पर जुट गए. साथ हघ सूचना मिलते ही परबत्ता थाना के पुलिस भी मौके पर पहुंची और मामले की जांच में जुट गई.

बताया जाता है कि घटनास्थल के पास पानी में पाया संख्या 11 से सटा लोहे के डैक पर खून के धब्बे देखे गये और अनुमान लगाया जा रहा है कि ब्रजेश कुमार का डेक पर चढ़ने दौरान पैर फिसल गया होगा और वह पानी की तेज धारा में समा गया. हलांकि घटनास्थल पर पुल निर्माण से जुड़े कोई कर्मी या मजदूर नहीं थे. ऐसे में घटना की वजह का अनुमान ही लगाया जा है. मौके पर प्रखंड के प्रशिक्षित गोताखोर के जवानों को तलाशी अभियान के लिए लगाया गया. लेकिन पानी की तेज धारा की वजह से उन्हें सर्च अभियान में मुश्किलों का सामना पड़ रहा था. घटना के करीब चार घंटे के बाद मौके पर एसडीआरएफ की टीम भी पहुंची और उनके द्वारा मोर्चा संभाला गया. खबर प्रेषण तक एसडीआरएफ को सफलता नहीं मिल सकी थी.

मामले पर थाना अध्यक्ष धर्मेंद्र कुमार पाल ने बताया है कि फिलहाल लापता युवक की तलाश के लिए आवश्यक कदम उठाए गए हैं और इस कार्य में एसडीआरएफ एवं प्रशिक्षित गोताखोर के जवानों को लगाया गया है. साथ ही उन्होंने बताया कि जांच-पड़ताल के बाद ही घटना की वजह का पता चल पाएगा. मौके पर अपर एसडीओ चंद्र किशोर कुमार सिंह, डीएसपी मनोज कुमार, प्रभारी सीओ चंदन कुमार प्रशिक्षु दारोगा रौशन प्रसाद, एसआई विजय कुमार, पीके राही श्यामबाबु आदि कैंप कर रहे थे.

घटनास्थल पर मौजूद लापता युवक के पिता सुदामा यादव ने बताया कि उनका पुत्र ब्रजेश कुमार बीते करीब 5 वर्षों से पुल निर्माण कंपनी में कार्यरत था और रविवार को भी वह कंपनी के ही किसी कर्मी के बुलावे पर पिलर संख्या 11 के पास गया था. लेकिन वहां से वह लापता है. वहीं लापता युवक की मां एवं पत्नी रो-रोकर बेसुध थी. बताया जाता है कि ब्रजेश अपने घर का अकेला कमाने वाला सदस्य था. घटना से उनके पूरे परिवार पर दुखों का पहाड़ टुट पड़ा है. इधर जिला परिषद सदस्य जयप्रकाश यादव, सामाजिक कार्यकर्ता मदन मोहन सिंह, पंचायत समिति सदस्य मिथिलेश कुमार, राकेश रंजन सिंह, सरपंच प्रतिनिधि विकास चौधरी, मुकेश सिंह आदी ने पुल निर्माण कंपनी एवं प्रशासन से मुआवजा देने का मांग की है. उधर स्थानीय विधायक डॉ संजीव कुमार ने घटना के लिये पुल निर्माण कंपनी को जिम्मेदार ठहराते हुए पीड़ित परिवार के प्रति संवेदना व्यक्त किया है.

Check Also

पुल निर्माण कार्य के दौरान लापता युवक का सातवें दिन शव बरामद

पुल निर्माण कार्य के दौरान लापता युवक का सातवें दिन शव बरामद

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: