Breaking News

भूमि विवाद मामलों के तीव्र निष्पादन का निर्देश, वरीय अधिकारी भी थाना पहुंच करेंगे निरीक्षण

लाइव खगड़िया : भूमि विवाद निराकरण संबंधी मामलों की समीक्षा के लिए शनिवार को जिलाधिकारी आलोक रंजन घोस की अध्यक्षता में बैठक का आयोजन किया गया. जिसमें अपर समाहर्ता सहित जिले के अन्य संबंधित पदाधिकारी सम्मिलित हुए. वहीं भूमि विवाद मामलों की समीक्षा की गई एवं आवश्यक दिशा निर्देश दिया गया.

बैठक में सबलपुर में जमीन कब्जा को लेकर हुए भूमि विवाद की भी समीक्षा की गई. वहीं बताया गया कि इस भूमि वाद मामले में कई लोगों पर नामजद प्राथमिकी दर्ज कराई गई है. वहीं अनुमंडल पदाधिकारी एवं अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी को विशेष रूप से निगरानी रखने का निर्देश दिया गया. जबकि दो समुदायों के बीच भूमि विवाद मामले में 10 लोगों पर प्राथमिकी दर्ज कराये जाने की जानकारी दी गई और बताया गया कि मामले में विधि सम्मत कार्रवाई की जा रही है. मौके पर जिलाधिकारी ने भूमि विवाद के अन्य मामलों पर निगरानी रखने एवं नियमानुकूल कार्रवाई करते हुए निष्पादन करने का निर्देश पदाधिकारियों को दिया.

बैठक के दौरान अनुमंडल पदाधिकारियों और अनुमंडल पुलिस पदाधिकारियों को महीने में 2 दिन संयुक्त रूप से थाना स्तर पर अंचलाधिकारी और थानाध्यक्ष द्वारा प्रतिवेदित भूमि विवाद के मामलों और निष्पादन की स्थिति की समीक्षा करने का निर्देश दिया गया. साथ ही भूमि विवाद मामलों को अनावश्यक रूप से लंबित ना रखने एवं निष्पक्षतापूर्वक नियमानुसार कार्रवाई करने की हिदायत दी गई.

वहीं जिलाधिकारी ने अनुमंडल पदाधिकारी एवं अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी को भूमि विवाद के निराकरण को लेकर पुलिस थाने में आयोजित जनता दरबार का निरीक्षण करने का निर्देश दिया. साथ ही अनुमंडल में मासिक स्तर पर दो बैठकें आयोजित कर भूमि विवादों के निराकरण का प्रयास करने का निर्देश दिया. जबकि जिलास्तरीय भूमि विवादों से संबंधित वादों की सतत निगरानी करने एवं निष्पादित होने योग्य वादों का त्वरित रूप से निष्पादन को निर्देशित किया गया.

मौके पर जिलाधिकारी ने अनुमंडल पदाधिकारी व अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी को थाना में आयोजित जनता दरबार के सुनवाई का निरीक्षण करने का निर्देश दिया. वहीं बताया गया कि और जिलाधिकारी, पुलिस अधीक्षक अथवा अपर समाहर्ता के द्वारा भी मामले को लेकर थाना का निरीक्षण किया जायेगा.

Check Also

संस्कृत के बिना संस्कृति को बचाना मुश्किल : शंकर शर्मा

संस्कृत के बिना संस्कृति को बचाना मुश्किल : शंकर शर्मा

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: