Breaking News

बेहतर रेवेन्यू के बावजूद बनने वाले विश्वस्तरीय स्टेशनों की लिस्ट में खगड़िया का नाम नहीं

लाइव खगड़िया (मनीष कुमार) : पूर्व मध्य रेल के 10 स्टेशनों को विश्वस्तरीय बनाए जाने की योजना है. मिली जानकारी के अनुसार सभी स्टेशनों के नाम तय कर लिए गए हैं और बेहतर रेवेन्यू देने वाले खगड़िया जंक्शन को उपेक्षा का दंश झेलना पड़ा है. स्थिति यह है कि चयनित स्टेशनों में पड़ोसी जिले बेगूसराय का दो स्टेशन बेगूसराय व बरौनी शामिल है. हलांकि वित्तीय वर्ष 2021-22 के प्रथम छमाही में बेगूसराय का रेवेन्यू खगड़िया से कम रहा था. गौरतलब है कि 1 अप्रैल से 30 सितंबर 2021 तक खगड़िया जंक्शन से 10 करोड़ 48 लाख 17 हजार 414 रूपये का राजस्व मिला था. जबकि बेगूसराय से 8 करोड़ 9 लाख 99 हजार 517 रूपये का राजस्व की प्राप्ति हुई थी. बावजूद इसके खगड़िया जंक्शन उपेक्षित रहा और निश्चय ही यह स्थानीय सांसद चौधरी महबूब अली कैसर सहित सत्तारूढ दलों के जिले के तमाम नेताओं के लिए किसी आईने से कम नहीं.




उल्लेखनीय है कि केन्द्र सरकार के स्टेशन पुनर्विकास योजना के तहत पूर्व मध्य रेल के जिन 10 स्टेशनों को विश्वस्तरीय बनाया जाना है, उसमें से 7 बिहार के एवं 1-1 स्टेशन झारखंड, उत्तर प्रदेश व मध्य प्रदेश का है. जिसमें बिहार का गया, राजेन्द्र नगर टर्मिनल, मुजफ्फरपुर, बेगूसराय, बरौनी, सीतामढ़ी व दरभंगा शामिल है. जबकि इसमें झारखंड का धनबाद, उत्तर प्रदेश का पंडित दीनदयाल उपाध्याय एवं मध्य प्रदेश का सिंगरौली रेलवे स्टेशन का नाम भी शामिल है.

पुनर्विकसित स्टेशनों पर मिलेगी यह सुविधाएं

1. पुनर्विकसित होने के बाद स्टेशन पर यात्रियों को संरक्षा, ग्रीन बिल्डिंग का रूप, वेंटिलेशन की सुविधा.

2. स्टेशन पर ही मॉल और मल्टीपर्पस बिल्डिंग.

3. सौर ऊर्जा, हरित इमारत समेत कई पर्यावरणीक चीजों को ध्यान में रखकर स्टेशन बनाया जाएगा.

4. स्टेशन पर एक्सेस कंट्रोल गे और हर प्लेटफॉर्म पर एस्केलेटर एवं लिफ्ट लगाए जाएंगे.

5. यात्रियों के खाने-पीने, वॉशरूम और फ्री इंटरनेट की सुविधा रहेगी.

6. दिव्यांगों के लिए रैंप, ब्रेल लिपि की व्यवस्था रहेगी.




Check Also

महाविद्यालयों से विद्यालयों में इंटर छात्रों के स्थानांतरण की कवायद पर आक्रोश

महाविद्यालयों से विद्यालयों में इंटर छात्रों के स्थानांतरण की कवायद पर आक्रोश

error: Content is protected !!