Breaking News

छठ के अवसर पर ‘इज्जत व ‘प्रश्न महाभारत की’ नामक नाटक का मंचन

लाइव खगड़िया : छठ महापर्व के अवसर पर शुक्रवार व शनिवार की रात्रि जिले के सदर प्रखंड के रहीमपुर मध्य पंचायत के नन्हकू मंडल टोला में नाटक का मंचन किया गया. इस क्रम में डॉ. शशि भूषण शर्मा के निर्देशन में सामाजिक नाटक ‘इज्जत’ तथा ‘प्रश्न महाभारत की’ नामक धार्मिक नाटक का मंचन हुआ. कार्यक्रम के संचालन में आचार्य राकेश पासवान शास्त्री ने उद्घोषक की भूमिका अदा किया और वे अपने शायराना अंदाज से दर्शकों को मंत्रमुग्ध करते रहे.




नाटक का शुभारंभ प्रार्थना दृश्य आचार्य अर्जुन महंत के द्वारा वेदोमंत्रोच्चारण के साथ गणेश वंदना और भगवान भास्कर की स्तुति से किया गया. नाटक में रघुवंश यादव, शिक्षक वशिष्ठ पोद्दार, राम पासवान, ऋषि देव यादव, डॉ रंजन साह, ज्वाला साह, शिक्षक संजीत साह, गौरव पासवान, एमके पासवान, सौरव पासवान, प्रशांत पासवान, राजा यादव, राहुल यादव, ऋतुराज, मिथुन, राणा यादव, किरणदेव यादव, अभिनव गुप्ता, चीकू शर्मा, पंकज यादव, मनीष कुमार बुच्ची एवं हास्य कलाकार के रूप में सरपंच देवनंदन साह व महेश मनमौजी ने अपनी-अपनी भूमिका को बेहतर ढंग से अंजाम दिया.




वहीं एक डांस एकेडमी के कलाकार आशीष, नीतीश, शाम्भवी कुमारी, दिलखुश, सचिन व प्रियांशु एवं सहरसा के म्यूजिकल ग्रुप कलाकारों में एलान्सर सुधीर बिहारी, सतीश अकेला, सपना रानी, काजू भारती, गुड़िया, वीणा, चांदनी के द्वारा डांस कला एवं चित्रहार का प्रस्तुति दिया गया.




मौके पर कांग्रेस केजिलाध्यक्ष कुमार भानु प्रताप उर्फ गुड्डू पासवान, पूर्व मुखिया प्रोफेसर तरूण प्रसाद, स्थानीय मुखिया मक्खन साह, प्रोफेसर डॉ विनय पासवान, सेवानिवृत्त शिक्षक कपिलदेव प्रसाद यादव, निर्देशक डॉ शशि भूषण शर्मा, प्रोफेसर डॉ अमित पासवान, डॉ संतोष कुमार संत, सुमन यादव, पूर्व जिला पार्षद् कृष्ण कुमार यादव उर्फ मुन्ना भाई, पंचायत सचिव देव कुमार,सरपंच देवनन्दन साह, वीरप्रकाश यादव, पूर्व सरपंच देवनन्दन प्रसाद यादव, शिक्षक नरेश पोद्दार, राहुल पोद्दार, अधिवक्ता रामाशिष पासवान, अर्जुन प्रसाद यादव, सच्चिदानन्द प्रदीप, सज्जन  पोद्दार, विकास पोद्दार व सरोज पासवान आदि मौजूद थे. वहीं कलाकारों एवं युवा नाट्य  कला परिषद, ननकू मंडल टोला को मेडल, डायरी, कलम एवं नगद राशि से सम्मानित किया गया.


Check Also

तथाकथित कलमकारों के नाचते शब्दों से पनाह मांगती पत्रकारिता

तथाकथित कलमकारों के नाचते शब्दों से पनाह मांगती पत्रकारिता

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: