Breaking News

शिक्षाविद विभूति नारायण सिंह के निधन पर दौड़ी शोक की लहर




लाइव खगड़िया : शिक्षाविद विभूति नारायण सिंह के निधन से जिले में शोक की लहर दौड़ गई है.उनका निधन शहर के जयप्रकाश नगर स्थित उनके निवास स्थल पर मंगलवार को हुई थी.बताया जाता है कि वे लंबे समय से बीमार चल रहे थे.वहीं बुधवार की सुबह उनके पार्थिव शरीर को बलुआही स्थित सीपीआई कार्यालय लाया गया. जहां सीपीआई के नेता व कार्यकर्ताओं ने उनके पार्थिव शरीर को फूल व माला अर्पित कर उन्हें श्रद्धांजलि दिया.साथ ही पार्टी का झंडा देकर संवेदना व्यक्त किया गया.उनके सम्मान में पार्टी कार्यालय का झंडा भी झुका दिया गया.




वहीं सीपीआई के जिला सचिव प्रभाकर प्रसाद सिंह ने बताया कि स्वर्गीय विभूति नारायण सिंह 1967 में ही सीपीआई के सदस्य बने थे और वे पार्टी के परबत्ता अंचल सचिव भी रहे थे.साथ ही लंबे समय तक वे पार्टी के जिला परिषद के सदस्य भी रह चुके है.साथ ही उन्होंने बताया कि वे जिला में वर्षो तक शिक्षक आंदोलन का नेतृत्व किया करते रहे थे और इस क्रम में वे माध्यमिक शिक्षक संघ के सचिव भी रहे.साथ ही वे श्याम लाल राष्ट्रीय उच्च विद्यालय के प्रधानाध्यापक पद पर भी कार्य कर चुके थे.

बताया जाता है कि दिवंगत विभूति नारायण सिंह जिला प्रगतिशील लेखक संघ के अध्यक्ष पद पर भी काम कर चुके हैं और उनके संपादन में ‘अवाम’ नामक पत्रिका भी निकालता था.मौके पर योगीन्द्र भवन में सहायक जिला सचिव पुनीत मुखिया, जिलापरिषद सदस्य चंद्रकिशोर यादव, तारनी प्रसाद यादव, रमेश चंद्र चौधरी, मनोज सदा, छात्रनेता अभिषेक विद्रोही आदि मौजूद थे.


Check Also

सार्वजनिक पुस्तकालय का शिलान्यास

सार्वजनिक पुस्तकालय का शिलान्यास

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: