Breaking News

नशा मुक्त भारत के द्वारा ‘नदियों की स्वच्छता’ विषय पर परिचर्चा का आयोजन




लाइव खगड़िया : नशा मुक्त भारत के मानसी के खुटिया स्थित प्रधान कार्यालय में रविवार को संगठन के संस्थापक प्रेम कुमार यशवंत की अध्यक्षता में एक बैठक का आयोजन किया गया.जिसमें संगठन के कई कार्यकर्ता उपस्थित थे.मौके पर सरस्वती पूजा के उपरांत प्रतिमा के विजर्सन के मद्देनजर नदी की स्वच्छता एवं वहां की सुरक्षा व्यवस्था विषय पर एक परिचर्चा का आयोजन किया गया.वहीं प्रेम कुमार यशवंत ने नदी के घाटों को चिन्हित कर वहां पानी के अन्दर बेरिकैटींग करने की अपील जिला प्रशासन से किया.साथ ही उन्होंने प्रतिमा का विसर्जन के बाद पानी से मुर्ति के अवशेष को निकालकर नष्ट करने की बातें कही.ताकि नदियों का जल को कुछ हद तक प्रदुषित होने से बचाया जा सके.

वहीं नशा मुक्त भारत के जिला संजोजक बीरू कुमार ने कहा कि विश्व में भारत की नदियों के जल में औषधिपूर्ण गुण माना जाता था.दूसरी तरफ देश में अंधभक्ति के कारण शहर का कचरा, मूर्ति एवं पूजा पाठ के अवशेष को नदियों मे डाल दिया जाता है.जिससे नदियों की गहराई कम हो जाती है और धीरे-धीरे वो सुखने की कगार पर पहुंच जाता है.जबकि बरसात के समय बाढ का पानी का फैलाना आम बात हो गई है.साथ ही उन्होंने कहा कि यदि समय रहते हम सचेत नहीं हुए तो आने वाले समय में और भी गंभीर परिणाम सामने आ सकते हैं.

मौके पर  नशा मुक्त भारत के गोगरी प्रखंड अध्यक्ष शिक्षक रंजीत कुमार, शेखर कुमार, अनिल कुमार, चिरंजिव कुमार, भोलू कुमार, रविन कुमार, नितेश कुमार आदि मौजूद थे.


Check Also

ऐतिहासिक पल : परबत्ता में आईटीआई कॉलेज का उद्धाटन

ऐतिहासिक पल : परबत्ता में आईटीआई कॉलेज का उद्धाटन

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: