Breaking News

अच्छे कर्मों में संपूर्ण सृष्टि की शक्ति समाहित होकर मनुष्य के पीछे लग जाती




लाइव खगड़िया (मुकेश कुमार मिश्र) : जिले के परबत्ता प्रखंड अंतर्गत मड़ैया मध्य विद्यालय  के प्रांगण मे आयोजित सात दिवसीय श्रीमद् भागवत कथा ज्ञान यज्ञ  के प्रथम दिन रविवार को राधे-राधे के उद्धघोष से माहौल भक्तिमय हो गया.वहीं वैदिक मंत्रोच्चारण के बीच पंडितो द्वारा कार्यक्रम की विधिवत शुरुआत किया गया.इस अवसर पर मध्य प्रदेश से पधारे  कथा व्यास संत श्री कृष्ण बिहारी दास जी ने श्रीमद् भागवत कथा के महत्व पर प्रकाश डालते हुए कहा कि पापों से मुक्ति दिलाने का दिव्य भागवत का श्रवण सुलभ मार्ग है.जो जीवन को दिव्य बनाती है और संसार के चक्कर से छुटकारा दिलाती है.



वहीं भागवत पुराण को वेदों का सार बताते हुए कहा गया कि भागवत कथा में जीवन का सार मौजूद हैं.आवश्यकता है निर्मल मन और स्थिर चित्त के साथ कथा का श्रवण करने की.भागवत कथा का श्रवण से मनुष्य को परमानन्द की प्राप्ति होती है.ऐसे में शांत चित्त और एकाग्र मन के साथ ही श्रीमदभागवत कथा सुननी चाहिए.भागवत श्रवण मनुष्य केे सम्पूर्ण कलेश को दूर कर भक्ति की ओर अग्रसर करती है तथा ईश्वर को प्राप्त करने का सरल मार्ग भागवत कथा काश्रवण बताया गया.

मौके पर उन्होंने अच्छे ओर बुरे कर्मो के परिणाम को विस्तार से समझाते हुए कहा कि मनुष्य जब अच्छे कर्मो के लिए आगे बढता है तो सम्पूर्ण सृष्टि की शक्ति समाहित होकर मनुष्य के पीछे लग जाती है और हमारे सारे कार्य सफल होते है.ठीक उसी तरह बुरे कर्मो की राह के दौरान सम्पूर्ण बुरी शक्तियॉ हमारे साथ हो जाती है. इस दौरान मनुष्य को निर्णय करना होता कि उसे किस राह पर चलना है.छल ओर छलावा ज्यादा दिन नहीं चलता है.कथा व्यास में कार्यक्रम के पहले दिन भगवान के विराट रूप का वर्णन किया गया.जिसे श्रवण कर  श्रद्धालु भाव-विभोर हो गए.साथ ही भजन, गीत व संगीत पर श्रद्धालु  झूमते रहे.सात दिवसीय श्री मद् भागवत कथा ज्ञान यज्ञ को लेकर क्षेत्र में भक्ति का माहौल बना हुआ है.



Check Also

ऐतिहासिक पल : परबत्ता में आईटीआई कॉलेज का उद्धाटन

ऐतिहासिक पल : परबत्ता में आईटीआई कॉलेज का उद्धाटन

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: