Breaking News

स्वास्थ्य सेवाओं की बेहतरी के लिए पप्पू की सेना ने कसी कमर

लाइव खगड़िया : जन अधिकार पार्टी (लो.) के जिला कार्यालय में जाप एवं युवा शक्ति के नेताओं के द्वारा शुक्रवार को एक प्रेसवार्ता का आयोजन किया गया.मौके पर पूर्व नगर सभापति सह जाप किसान प्रकोष्ठ के प्रदेश अध्यक्ष मनोहर कुमार यादव ने बिहार के चिकित्सा व्यवस्था पर सवाल खड़ा करते हुए कहा कि सुशासन के कार्यकाल में स्वास्थ्य माफियाओं का बोलबाला है.मरीज प्राइवेट डॉक्टर के मनमानी,फर्जी जांच घर,फर्जी क्लीनिक से परेशान हैं.साथ ही पुराने पुर्जे वाले मरीज के साथ चिकित्सकों का व्यवहार अच्छा नहीं होता है.वहीं उन्होंने कहा कि इन सभी मुद्दों को लेकर जिला पदाधिकारी, सिविल सर्जन एवं आईएमए के अध्यक्ष व सचिव को पत्र लिखकर मांग की जायेगी कि पंद्रह दिनों के अंदर जिले के फर्जी जांच घर एवं फर्जी क्लीनिक की जांच कर अविलंब कार्रवाई किया जाये,नहीं तो जाप व  युवा शक्ति के कार्यकर्ता सिविल सर्जन कार्यालय के सामने चरणबद्ध आंदोलन करने पर मजबूर होगें.साथ ही उन्होंने कहा कि बिहार में सरकारी चिकित्सा व्यवस्था चौपट हो चुकी है.जिसके कारण लोगों को प्राइवेट क्लीनिक व नर्सिंग होम का सहारा लेना पड़ता है.

वहीं युवा शक्ति के जिला अध्यक्ष चंदन कुमार सिंह ने कहा कि जिले के डॉक्टरों की मनमानी से आमजन काफी परेशान हैं.डॉक्टर को भगवान का दूसरा रूप माना जाता है.लेकिन अधिकांश डॉक्टर अपने दायित्वों का निर्वहन करना छोड़ कर मरीजों के आर्थिक शोषण में लग गये हैं.वहीं उन्होंने कहा कि जाप और युवा शक्ति के कार्यकर्ता जिले के सभी प्राईवेट डॉक्टर के क्लीनिक पर जाकर मरीज के पुर्जे की मियाद एक माह करने एवं पुराने पुर्जे वाले मरीज के साथ भी कुशल व्यवहार करने की अपील करेंगे.जबकि युवा शक्ति के वरिष्ठ नेता रणवीर कुमार,कार्यकारी जिलाध्यक्ष अभय कुमार गुड्डू, जाप किसान सेल के जिलाध्यक्ष सुनील चौरसिया,अनुसूचित जाति-जनजाति के जिलाध्यक्ष किशोर दास आदि ने जिले में चल रहे फर्जी जांच घर व स्वास्थ्य संस्थानों द्वारा मरीजों के शोषण और उनकी स्वास्थ्य से खिलवाड़ का मामला उठाते हुए कहा कि जांच के शुल्क में संबंधित डॉक्टर का कमीशन तय रहने के वजह से लोगों को काफी ज्यादा राशि देना पड़ता है.साथ ही जिले के किसी भी जांच घर में विशेषज्ञ चिकित्सक के द्वारा जांच नहीं किया जाता है और न ही गुणवत्तापूर्ण जांच मशीन का उपयोग किया जाता है.

वहीं किसान सेल के प्रदेश महासचिव अनिरुद्ध जलान,जाप सोशल मीडिया के संयोजक आनंद रंजन और जाप युवा परिषद के कार्यकारी जिलाध्यक्ष विक्की आर्य ने कहा कि स्वास्थ्य विभाग की उदासीनता तथा मिलीभगत के कारण ही जिले में फर्जी जांच घर व नर्सिंग होम का धंधा फल-फूल रहा है.एक ही डॉक्टर जिले के दर्जनों नर्सिंग होम में नाम लगाकर इस गोरखधंधा को बढ़ावा दे रहे हैं.मौके पर मनोज पासवान,अजीत तिवारी,सर्वजीत पांडेय,दयानंद यादव,छात्र युवा शक्ति के जिलाध्यक्ष रौशन कुमार, रामदेव यादव सहित कई नेता मौजूद थे.

Check Also

शांति, सत्य और करुणा के संदेशवाहक थे महात्मा बुद्ध

शांति, सत्य और करुणा के संदेशवाहक थे महात्मा बुद्ध

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: