Breaking News

कर्तव्य पथ पर पसराहा SHO आशीष कुमार ने लगा दी जान की बाजी,शहीद

लाइव खगड़िया : कर्तव्य पथ पर अपराधियों से लोहा लेते हुए जिले के पसराहा थानाध्यक्ष आशीष कुमार जान की बाजी लगते हुए शहीद हो गए हैं.मिली जानकारी के अनुसार बीती रात पसराहा थाना प्रभारी आशीष कुमार को जैसे ही गुप्त सूचना मिली कि नवगछिया और खगड़िया के सीमावर्ती इलाका दुधैला दियारा में दिनेश मुनि गिरोह के अपराधियों का जमाबड़ा लगा है कि वो दलबल के साथ देर रात वहां कूच का गए.पुलिस के पहुँचने की भनक मिलते ही अपराधी भागने लगे.लेकिन पुलिस टीम भी उसका पीछा करती रही.आखिरकार पुलिस से घिरते देख अपराधियों ने फायरिंग शुरू कर दी.पुलिस के द्वारा भी जवाबी फायरिंग किया गया.इस दौरान दोनों तरफ से जमकर गोलीबारी हुई.इसी क्रम में अपराधियों की एक गोली पुलिस टीम का नेतृत्व कर रहे थानाध्यक्ष आशीष कुमार के सीने में जा लगी और मौके पर ही उनकी मौत हो गई.

शहीद थानेदार आशीष कुमार (फाइल फोटो)

साथ ही पुलिस के एक जवान दुर्गेश कुमार भी जांघ में गोली लगने से घायल हो गए.जिन्हें बेहतर इलाज के लिए भागलपुर भेजा गया है.वहीँ पुलिस से मुठभेड़ में दो अपराधियों के भी गोली लगने की बातें सामने आ रही है.जिसमें से एक का शव बरामद किया जा चुका है.दिनेश मुनि खगड़िया-नवगछिया दियारा इलाके का आतंक है.जो हत्या,लूट व अपहरण जैसे कई संगीन मामले का आरोपी बताया जाता है.

इलाजरत घायल सिपाही दुर्गेश कुमार

दूसरी तरफ घटना की सूचना मिलते ही जिले के पुलिस अधीक्षक मीनू कुमारी सहित नवगछिया व भागलपुर की पुलिस घटनास्थल पर पहुची.मिल रही जानकारी के अनुसार दियारा क्षेत्र पुलिस छावनी में तब्दील हो गया है और वहां विभिन्न जिले की पुलिस के द्वारा संयुक्त छापेमारी अभियान जारी है.

बताया जाता है कि 35 वर्षीय 2009 बैच के शहीद थानेदार आशीष कुमार बहुत ही नेक,विनम्र और अपने कर्तव्य के प्रति बेहद ही ईमानदार व अनुशासित इंसान थे.कर्तव्य पथ पर खतरों से खेलना उनकी आदतों में शुमार था.इसके पूर्व भी एक ऑपरेशन के दौरान वो अपराधियों की गोली से घायल हो चुके थे.मूल रूप से वे सहरसा जिले के सरोजा गांव के निवासी थे.जिनका जिले के चौथम थाना क्षेत्र के लालपुर में ननिहाल था.तीन भाइयों में सबसे छोटे रहे शहीद आशीष कुमार को दो छोटे-छोटे बच्चे हैं.बहरहाल कर्तव्य पथ पर थानेदार आशीष कुमार की शहादत पुलिसकर्मियों को सदा प्रेरणा देती रहेगी और एक कर्तव्यनिष्ठ पुलिस पदाधिकारी की याद जिलेवासियों को भी सदा आती रहेगी.

Check Also

गोली मारकर भाग रहे तीन बदमाशों को होमगार्ड के जवानों ने हथियार के साथ दबोचा

गोली मारकर भाग रहे तीन बदमाशों को होमगार्ड के जवानों ने हथियार के साथ दबोचा

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: