Breaking News

एक सैनिक की तमन्ना…हर घर में हो एक सैनिक,कर रहे युवाओं को प्रेरित

लाइव खगड़िया (मुकेश कुमार मिश्र) : रक्षाबंधन पर रक्षा की बात…देश के एक सुरक्षा सेनानी की बता…बात सैनिक इन्द्रदेव कुमार भूषण की…जिले के परबत्ता प्रखंड के सौढ़ उत्तरी पंचायत अंतर्गत सतीश नगर गांव निवासी नंद किशोर प्रसाद सिंह व माया देवी  के पुत्र थल सेना में नायव सूवेदार मास्टर-टेक राडार पद पर इन्द्रदेव कुमार भूषण फिलहाल पंजाब के भटिंडा में कार्यरत हैं.देश की रक्षा के साथ-साथ इन्द्र देव कुमार भूषण सैनिको को योगाभ्यास का पाठ भी पढ़ा रहे हैं.इतना ही नहीं योग विद्या में निपुन इन्द्र देव कुमार भूषण लगातार दो वर्षो से विश्व योग दिवस पर छुट्टी लेकर अपने गांव में भी लोगो को योग के प्रति जागरूक करते आ रहें हैं.साथ ही अपने गांव के युवाओ को सैनिक में भर्ती होने के लिए प्ररित भी करते रहे हैं.एक़ वो वक्त था जब सतीश नगर गांव के इन्द्र देव कुमार भुषण एकलौते सैनिक थे.लेकिन आज उनकी प्रेरणा से आधा दर्जन युवक सैनिक की नौकरी प्राप्त कर गौरवान्वित महसूस कर रहे हैं.दूसरी तरफ उनकी पत्नी सुधा कुमारी पंचायत शिक्षिका के पद पर गोगरी प्रखंड के प्राथमिक विद्यालय बड़ी पैकांत पूर्वी खंड में कार्यरत हैं.साथ ही वो आस-पड़ोस के बालिकाओ को शिक्षा के प्रति जागरुक कर रहीं हैं.बताया जाता है कि सतीश नगर गांव से प्राथमिक विद्यालय पैंकात पूर्वी खंड की दूरी लगभग पांच किलोमीटर है.लेकिन इस सड़क की हालत जर्जर है.ऐसे में उन्हें स्कूल आने-जाने में नित्य दस किलोमीटर की पैदल यात्रा करनी पड़ती है.बावजूद इसके उनके हौसले में कोई कमी आती नहीं दिखती और वो शिक्षा की अलख जलाने में कोई कसर नही छोड़ती हैं.विद्यालय में 130 छात्र-छात्राएं नामांकित हैं.जहां प्रधानाध्यापक के अलावा एक मात्र शिक्षिका सुधा कुमारी बच्चों के बीच पठन-पाठन का कार्य करती है.साथ ही बच्चों व उनके अभिभावकों को भी स्वच्छता के प्रति भी जागरूक किया जाता रहा है.बहरहाल इन्द्रदेव कुमार भूषण देश व समाज की सेवा कर तथा उनकी पत्नी शिक्षा के क्षेत्र में दीप जलाकर लोगो के बीच आंखो का तारा बन गए है.इन्द्र देव कुमार भुषण ने अपनी प्रारंभिक शिक्षा गांव से ही एक उच्च शिक्षा जिले के कोसी कॉलेज से प्राप्त किया था.जिसके उपरांत वर्ष 1998 में उनकी कटिहार में थल सेना के टेक्नीकल पद पर चयन हुआ.सिकंदराबाद मे ट्रेनिंग के बाद वे पंजाब,उड़ीसा,जम्मू, कारगिल, पठान कोट, सिकंदराबार आदि स्थानो पर अपनी सेवा दे चुके हैं.फिलहाल पंजाब के भटिंडा में नायव सूवेदार मास्टर-टेक राडार पद पर कार्यरत है.कार्यकाल के दौरान ही उन्होने पॉलिटेक्निक के साथ एमबीए की भी डिग्री प्राप्त कर सेना में आगे बढ़ते गये.साथ ही योग की शिक्षा योग गुरु रामदेव बाबा के शिविर में प्राप्त किया.इसके बाद जहां-जहां उनकी पोस्टिंग होती गई वहां-वहां वो सैनिको को योगाभ्यास भी कराते आ रहा है.इस कार्य के लिए वो सेना के अधिकारियों के हाथों कई बार सम्मानित भी हुए.साथ ही अवकाश के दौरान गांव में रहने पर स्थानीय युवाओं को भी योगाभ्यास करना नहीं भूलते है.उनकी तमन्ना है कि प्रत्येक घर से देश की रक्षा के लिए एक सैनिक होना चाहिए और वो गांव के युवाओ क़ो इस ओर प्रेरित भी कर रहे हैं. करीब 150 प्रकार के योगभ्यास की जानकारी रखने वाले सैनिक इन्द्र देव कुमार भूषण के 8 वर्षीय पुत्र अभिनीत अर्श और 12 वर्षीय बेटी श्रेया श्री भी प्रत्येक दिन सुबह-शाम योगाभ्याय करती हैं.सौढ़ उत्तरी पंचायत के पूर्व मुखिया उमाकांत सिंह,वकील सिंह,व्यास कुमार,बाल्मीकि सिंह,सुनिल सिंह,मुकेश सहनी,सदानंद सिंह,वंशीधर, दयानंद सिंह,प्रभु दयाल सहनी आदि बताते हैं कि नायव सूबेदार मास्टर-टेक राडार इन्द्रदेव कुमार भूषण सतीश नगर गांव के युवाओ के लिए प्ररेणा श्रोत हैं.साथ ही वे गरीबो की मदद के लिए भी सदैव आगे रहते हैं.

Check Also

अवैध हथियार के साथ तीन की गिरफ्तारी

अवैध हथियार के साथ तीन की गिरफ्तारी

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: