Breaking News

पुण्यतिथि पर याद किये गए जननायक कर्पूरी ठाकुर

लाइव खगड़िया : पूर्व मुख्यमंत्री जननायक कर्पूरी ठाकुर के पुण्यतिथि पर जन अधिकार युवा परिषद के जिलाध्यक्ष अभय कुमार गुड्डू के नेतृत्व में जिले के मानसी प्रखंड के मटिहान में शुक्रवार को जाप एवं युवा शक्ति के द्वारा श्रद्धांजलि सभा का आयोजन किया गया. वहीं जननायक के चित्र पर पुष्प अर्पित कर उन्हें श्रद्धांजलि दी गई. मौके पर संबोधित करते हुए जन अधिकार युवा परिषद के जिलाध्यक्ष अभय कुमार गुड्डू ने कहा कि कर्पूरी ठाकुर बिहार की राजनीति में गरीबों और दबे कुचले वर्ग की आवाज थे. वे दो बार बिहार के मुख्यमंत्री व एक बार उपमुख्यमंत्री रहे. साथ ही वे दर्शकों तक विपक्ष के नेता भी रहे. वे 1952 में पहली बार विधानसभा का चुनाव में जीते थे.

साथ ही उन्होंने कहा कि जननायक कर्पूरी ठाकुर बिहार के पहले गैर कांग्रेसी मुख्यमंत्री बने थे और जब वे उपमुख्यमंत्री बने तो बिहार में अंग्रेजी की अनिवार्यता को खत्म कर दिया. हलांकि इसके कारण उन्हें काफी आलोचना का भी सामना करना पड़ा था. जबकि साल 1971 में मुख्यमंत्री बनने पर उन्होंने किसानों को बड़ी राहत देते हुए गैर-लाभकारी जमीन पर मालगुजारी टैक्स को खत्म कर दिया था और जब 1977 में मुख्यमंत्री बने तो सरकारी नौकरियों में मुंगेरीलाल कमीशन लागू कर गरीबों और पिछड़ों को आरक्षण दिलाया था. उन्होंने बताया कि जननायक कर्पूरी ठाकुर की लोकप्रियता के कारण ही उन्हें जननायक कहा जाता है. साथ ही उन्होंने कहा कि नाई जाति में जन्म लेने वाले कर्पूरी ठाकुर सरल हृदय के राजनेता माने जाते थे और सामाजिक रूप से पिछड़ी जाति से जुड़े थे. लेकिन उन्होंने राजनीति को जनसेवा की भावना के साथ किया था.

इस अवसर पर युवा शक्ति के कार्यकारी अध्यक्ष जवाहर यादव, दयानंद यादव, रतन कुमार सिंह, सुशांत कुशवाहा, धर्मेंद्र पोद्दार, रणवीर कुमार यादव आदि उपस्थित थे.

Check Also

फायरिंग की घटना से बाजार में मची अफरातफरी, गोली लगने से एक जख्मी

फायरिंग की घटना से बाजार में मची अफरातफरी, गोली लगने से एक जख्मी

error: Content is protected !!