Breaking News

भाजपा रच रही आरक्षण समाप्त करने का षडयंत्र : जदयू जिलाध्यक्ष

लाइव खगड़िया : जदयू के कचहरी रोड स्थित जिला कार्यालय में गुरूवार को पार्टी के अतिपिछड़ा वर्ग के नेताओं के साथ जदयू जिलाध्यक्ष बबलू कुमार मंडल ने प्रेसवार्ता का आयोजन किया. वहीं उन्होंने मीडियाकर्मियों को संबोधित करते हुए कहा कि बिहार की जनता भलीभांति जान रही है कि नगर निकाय चुनाव की तिथि घोषित होने के बाद भाजपा के नेता बाधा उत्पन्न कर रहे हैं और वे नगर निकाय चुनाव में उम्मीदवारों का फिर से नामांकन की प्रक्रिया का पैरोकारी कर रहे हैं. जबकि सत्य यह है कि नामांकन की प्रक्रिया समाप्त होंने के पश्चात चुनाव स्थगित हुआ था औऋ सिर्फ मतदान होना शेष था. जो अब नई घोषित तिथि के अनुसार होगा.

वहीं जदयू जिलाध्यक्ष ने कहा कि जब चुनाव स्थगित हुआ था तो बीजेपी नामांकन में उम्मीदवारों के खर्च को लेकर चर्चा कर रही थी और अब जब नगर निकाय का मतदान की नई तिथि घोषित हुई तो उनके द्वारा फिर से नामांकन की बात उठाना सवाल खड़ा करता है. साथ ही उन्होंने कहा कि ऐसे में साफ प्रतीत होता है कि वास्तव में भाजपा आरक्षण को समाप्त करने का षडयंत्र रच रही है. लेकिन बिहार में अतिपिछड़ा वर्ग को पंचायत में वर्ष 2006 से एवं नगर निकाय में वर्ष 2007 से हीं आरक्षण लागू है एवं कई चुनाव हो चुके हैं. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने अतिपिछड़ा वर्ग के लिए आरक्षण दिया है और वो लागू रहेगा. जबकि भाजपा का कोई साजिश और षडयंत्र सफल होने वाला नहीं है.

मौके पर जदयू जिलाध्यक्ष ने कहा कि पटना उच्च न्यायालय के आदेश के बाद अतिपिछड़ा वर्ग आयोग ने इन वर्ग के लोगों का सामाजिक व राजनीतिक पिछड़ेपन का अध्ययन कर रिपोर्ट सौंपी. जिसे पिछड़ा वर्ग आयोग ने भी समीक्षा कर इसपर अपना सुविचारित मंतव्य दिया और इसके बाद चुनाव की तिथि की घोषणा हुई. वहीं उन्होंने कहा कि मई 2022 में मध्यप्रदेश में हो रहे नगर निकाय चुनाव में मध्यप्रदेश पिछड़ा वर्ग आयोग की अनुशंसा को ही सर्वोच्च न्यायालय ने स्वीकार कर चुनाव की अनुमति दी है. मध्यप्रदेश भाजपा शासित राज्य है और वहां गठित पिछड़ा वर्ग आयोग में तीन सदस्य भाजपा के विधायक हैं. जिनकी अनुशंसा स्वीकार हुई है. जबकि बिहार में पिछड़ा – अतिपिछड़ा वर्ग आयोग के अध्यक्ष उच्च न्यायालय के सेवानिवृत्त न्यायाधीश हैं. ऐसे में उनकी अनुशंसा पर नगर निकाय चुनाव की तिथि का घोषणा हुआ है और उसपर प्रश्नचिन्ह खड़ा करना भाजपा का आरक्षण विरोधी चेहरा को उजागर करती है.

प्रेसवार्ता के दौरान जदयू के पूर्व जिला अध्यक्ष व पूर्व एमएलसी सोनेलाल मेहता, अल्पसंख्यक प्रकोष्ठ के जिला अध्यक्ष मोहम्मद शहावउद्दीन, अतिपिछड़ा वर्ग प्रकोष्ठ के जिला अध्यक्ष प्रवीण कुमार चौरसिया, जिला उपाध्यक्ष पंकज कुमार पटेल, जिला प्रवक्ता अरविन्द मोहन, राकेश पासवान शास्त्री, प्रदेश सचिव अजय मंडल, मो फिरदोश आलम, जिला महासचिव उमेश सिंह पटेल, रामविलास महतो, नगर अध्यक्ष जितेंद्र पटेल, जिला सचिव अनुज शर्मा, पंकज कुशवाहा, राजीव ठाकुर आदि उपस्थित थे.

Check Also

मौका मिलते ही नीतीश ने ली चुटकी, निशाने पर रहे चिराग

मौका मिलते ही नीतीश ने ली चुटकी, निशाने पर रहे चिराग

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: