Breaking News

चुनाव की पथरीली राह में फंसी कुर्सी, हंगामे की भेंट चढ़ा जदयू जिलाध्यक्ष का चुनाव

लाइव खगड़िया : जदयू के राज्य निर्वाचन पदाधिकारी के निर्देशानुसार जदयू जिलाध्यक्ष का रविवार को शहर के टॉउन हॉल में पूर्व से निर्धारित था. चुनाव प्रक्रिया के तहत जदयू के जिलाध्यक्ष पद के लिए कुल तीन अभ्यर्थियों ने अपना-अपना नामांकन पत्र दाखिल किया. लेकिन इनमें से एक अभ्यार्थी का नाम मतदाता सूची में शामिल नहीं रहने के कारण उनकी उम्मीदवारी को अवैध करार दिया गया. जिसके बाद बबलू कुमार मंडल तथा सुनील कुमार का नामांकन पत्र वैध पाये जाने की घोषणा डीआरओ अशोक कुमार सिंह के द्वारा किया गया.

वहीं उम्मीदवारों के नाम सामने आने के बाद पार्टी गाइड लाइन के तहत हाथ उठाकर चुनाव प्रक्रिया संपन्न करने की मांग उठने लगी.

बबलू कुमार मंडल के समर्थन में बेलदौर के विधायक पन्ना लाल सिंह पटेल, पूर्व विधायक पूनम देवी यादव व पूर्व विधान पार्षद् सह पूर्व जिलाध्यक्ष सोनेलाल मेहता भी खड़े दिखे. इस बीच चुनाव हंगामे की भेंट चढ़ गया और चुनाव पर्यवेक्षक डॉ अमरदीप ने चुनाव स्थगित करने की घोषणा कर दी.

मिली जानकारी के अनुसार चुनाव को लेकर जिला निर्वाचन पदाधिकारी अशोक कुमार सिंह ने जदयू के राज्य निर्वाचन पदाधिकारी को लिखे पत्र में उल्लेख किया है कि बबलू कुमार मंडल के समर्थन में 90 फीसदी डेलिगेट मेम्बर खड़े थे. जबकि सुनील कुमार के पक्ष में 10 फीसदी सदस्य उनके साथ थे. जो मंच के सामने खड़े होकर शोर करते दिखे. जिसके बाद पार्टी निर्देश का हवाला देते हुए चुनाव पर्यवेक्षक ने चुनाव स्थगित कर दिया. मामले में जिला निर्वाचन पदाधिकारी अशोक कुमार सिंह ने बताया है कि चुनाव के दौरान उत्पन स्थित से राज्य निर्वाचन पदाधिकारी को अवगत कराते हुए उचित निर्णय लिये जाने की मांग की गई है.

Check Also

19 से 24 दिसंबर तक सीपीआई करेगी जन सत्याग्रह आंदोलन

19 से 24 दिसंबर तक सीपीआई करेगी जन सत्याग्रह आंदोलन

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: