Breaking News

साइबर ठगों का दुस्साहस, डीएम का फर्जी वाट्सएप अकाउंट बना डिमांड कर रहे गिफ्ट कार्ड

लाइव खगड़िया : लोगों की गाढ़ी कमाई को हड़पने के लिए साइबर ठग रोजाना नए-नए तरीके अपना रहे हैं और अब तो साइबर ठगों ने दुस्साहस की सारी हदें ही पार कर दी है. साइबर ठग के द्वारा खगड़िया के डीएम आलोक रंजन घोष का फर्जी वाट्सएप अकाउंट बनाकर लोगों से ठगी का मामला सामने आया है. मिली जानकारी के अनुसार डीएम के पिक और नाम से साइबर ठग ने फर्जी वाट्सएप अकाउंट बना लिया है और इसी वाट्सएप अकाउंट से मैसेज कर पदाधिकारियों से लेकर लोगों तक से गिफ्ट कार्ड आदि की डिमांड की जा रही है. मामला संज्ञान में आते ही डीएम ने प्रेस विज्ञप्ति जारी करते हुए फर्जी वाट्सएप अकाउंट के मैसेज से लोगों को सावधान करते हुए बताया है कि वो नंबर उनका नहीं है.

जिलाधिकारी आलोक रंजन घोष का फोटो प्रयोग करते हुए फर्जी व्हाट्सएप अकाउंट मोबाइल नंबर +91 9178229261 से बनाया गया है और इसी नंबर से पदाधिकारियों सहित अन्य लोगों से गिफ्ट कार्ड आदि की डिमांड की जा रही है. मामले पर डीएम ने स्पष्ट कहा है कि यह नंबर उनका नहीं है और किसी जालसाज के द्वारा व्हाट्सएप पर अकाउंट बनाकर उनकी तस्वीर व नाम का दुरुपयोग किया जा रहा है. साथ ही उन्होंने इस वाट्सएप नंबर से भेजे गए संदेश के झांसे में ना आने व मैसेज का जवाब नहीं देने की लोगों से अपील की गई है. मिली जानकारी के अनुसार संबंधित व्यक्ति के खिलाफ पुलिस में मामला दर्ज कराया जा रहा है.

Check Also

हर ‘बोलता खगड़िया’ रविकांत चौरसिया नहीं हो सकता और ना ही हर ‘लाइव खगड़िया’…

हर 'बोलता खगड़िया' रविकांत चौरसिया नहीं हो सकता और ना ही हर 'लाइव खगड़िया'...

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: