Breaking News

पॉलिटेक्निक कॉलेज के नवनिर्मित भवन का सीएम ने किया उद्धाटन

लाइव खगड़िया : जिले के महद्दीपुर में
नवनिर्मित पॉलिटेक्निक कॉलेज भवन का बुधवार को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से उद्धाटन किया. जिसके बाद क्षेत्र में खुशी की लहर दौड़ गई. इस अवसर पर स्थानीय विधायक डॉ संजीव कुमार ने कहा कि पॉलिटेक्निक कॉलेज जिलेवासियों के लिये महत्वपूर्ण है. जिसकी स्थापना के लिए उनके पिताजी पूर्व मंत्री आर एन सिंह ने जो प्रयास किया था वह सफल रहा है और आज उनका इलाके को तकनीकी क्षेत्र में परिवर्तित करने का सपना साकार हो गया है. साथ ही विधायक ने कहा कि यह शुरूआत है और अब क्षेत्र में जल्द ही नर्सिंग कॉलेज की भी शुरुआत होगी. जबकि मेडिकल कॉलेज के लिये जमीन चिन्हित कर लिया गया है.

वहीं विधायक ने कहा कि महद्दीपुर में पॉलीटेक्निक कॉलेज के खुल जाने से जो छात्र-छात्राओं को पॉलिटेक्निक की पढ़ाई के लिए दूसरे शहर नहीं जाना पड़ेगा. साथ ही उनके अभिभावकों को मोटी रकम चुकाने से मुक्ति मिलेगी. साथ ही विधायक ने कहा कि क्षेत्र में पॉलीटेक्निक कॉलेज नही होने से यहां के आर्थिक रूप से कमजोर प्रतिभाओं का सपना अधूरा रह जाता था. लेकिन अब ऐसे भी छात्रों का सपना पूरा होगा और शिक्षा के क्षेत्र में यह कॉलेज जिले में एक नई दिशा तय करेगा. उन्होंने इस वर्ष से ही इस कॉलेज में पढ़ाई शुरू होने की बातें कही.

मौके पर विधान पार्षद राजीव कुमार ने कहा कि पॉलीटेक्निक कॉलेज खुलने से इलाके के बच्चों को दूर दराज के क्षेत्रों में नहीं जाना पड़ेगा. अब तक उन्हें तकनीकी शिक्षा ग्रहण करने के लिए सैंकड़ों किलोमीटर दूर जाना पड़ता था. साथ ही उन्हें प्राइवेट कॉलेजों में मोटी फीस चुकानी पड़ती थी. उद्धाटन के अवसर पर महद्दीपुर स्थित पॉलीटेक्निक कॉलेज में जदयू प्रखण्ड अध्यक्ष ध्रुव कुमार शर्मा, विधायक प्रतिनिधि सह जेडआरयूसीसी सदस्य राकेश कुमार सिंह, जदयू जिला उपाध्यक्ष मणिभूषण चौधरी, साकेत कुमार, जदयू नेता राजू कुमार, समाजिक कार्यकर्ता सह सदस्य पूर्व मध्य रेलवे सुभाष चन्द्र जोशी, महद्दीपुर की मुखिया कुमारी मिलन सिन्हा, पूर्व मुखिया राजेन्द्र प्रसाद सिंह, पंचायत समिति सदस्य असर्फी साह, राहुल कुशवाहा, श्रीकांत सिंह आदि उपस्थित थे.

Check Also

एक झपकी लगी और उजड़ गई दुनिया, किसी घर का बुझा चिराग तो किसी का उजड़ा सुहाग

एक झपकी लगी और उजड़ गई दुनिया, किसी घर का बुझा चिराग तो किसी का उजड़ा सुहाग

error: Content is protected !!