Breaking News

स्टेट यूथ वॉलीबॉल चैंपियनशिप में अनुभव की कप्तानी में खगड़िया बना था विजेता




लाइव खगड़िया (मुकेश कुमार मिश्र) : वॉलीबॉल खेल के प्रति परबत्ता के युवाओं की दीवानगी कोई नई बात नहीं है. इस खेल की बदौलत कई युवा भारतीय सेना एवं बिहार पुलिस में अपनी सेवाएं दे रहे हैं.

बात यदि वॉलीबॉल खेल में खगड़िया की उपलब्धियों की करें तो जिले के परबत्ता प्रखंड के खजरैठा निवासी रामबोल प्रसाद राय के 30 वर्षीय पुत्र अनुभव कुमार का नाम लिया जा सकता है. बॉलीवॉल खिलाडी अनुभव कुमार 2007-2008 एवं 2015 में सीनियर नेशनल चैंपियनशिप खेल चुके हैं. जबकि कई बार उन्हें यूथ नेशनल खेलने का भी मौका मिल चुका है. वर्ष 2013 में बांका में आयोजित स्टेट यूथ चैंपियनशिप में उन्होंने अपनी कप्तानी में खगड़िया टीम विजेता बनाया था.




भारतीय खेल प्राधिकरण विशेष क्षेत्र खेल केंन्द्र किशनगंज के खगड़ा में 2008 से 2013 तक उन्होंने कोच अजय कुमार के संरक्षण में प्रशिक्षण प्राप्त किया है. फिलहाल बाल मंदिर किशनगंज में ही वे एक शारीरिक शिक्षक के पद पर कार्यरत हैं और वे वहां के छात्र-छात्राओं को वॉलीबॉल खेल के प्रति जागरूक कर रहे हैं. अनुभव कुमार की प्रारंभिक शिक्षा गांव से हुई थी. जबकि स्नातक उन्होंने टी.एन.बी कॉलेज भागलपुर से किया था.

अनुभव कुमार के बारे में जिला परिषद के पूर्व सदस्य पंकज कुमार राय बताते हैं कि वे गांव की पगदंडी से ऊपर उठकर इस मुकाम तक पहुंचे हैं. साथ ही वे कहते हैं कि गांव में प्रतिभावान खिलाड़ियों की कमी नही है. लेकिन प्रशिक्षण केन्द्र नहीं होने के कारण युवाओं को वो मंजिल नहीं मिल रही जिसके वे वास्तविक तौर पर हकदार हैं.


Check Also

जलवायु के साथ-साथ मिट्टी को भी प्रदूषित होने से बचाने की जरूरत

जलवायु के साथ-साथ मिट्टी को भी प्रदूषित होने से बचाने की जरूरत

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: