Breaking News

अच्छी खबर : बिहार का दूसरा बायोडीजल प्लांट लगेगा खगड़िया में




लाइव खगड़िया : कच्चे तेल की बढ़ती कीमतों के बीच हर देश उर्जा के वैकल्पिक स्त्रोतों की तलाश में है. इस कड़ी में भारत में जिन स्त्रोतों पर तेजी से कार्य हो रहा है उनमें से बायो डीजल का नाम प्रमुखता से लिया जा सकता है और यह एक अच्छी खबर है कि जिले में बायो डीजल प्लांट लगाया जा रहा है. इस कार्य को सरिता डीजल प्राइवेट लिमिटेड नामक कंपनी अंजाम देने जा रही है और कंपनी के अनुसार यह बिहार का दूसरा बायोडीजल प्लांट होगा. जिसकी शुरुआत  B100 grade Biodiesel से किया जा रहा है. यह बायो-डीजल सभी डीजल वाहनों एवं डीजल इंजन के लिए उपयुक्त माना जाता है. जानकर बताते हैं कि यह बायो डीजल ना सिर्फ सामान्य डीजल से सस्ता होगा बल्कि गाड़ियों का माइलेज बढाने के साथ ही पर्यावरण के लिए भी बेहतर होगा.

मिली जानकारी के अनुसार कंपनी का लक्ष्य शुरूआत के 6 महिने में कोसी क्षेत्र के सभी जिलों में 7 से 8 बायो-डीजल पंप का डीलरशिप देने का है. साथ ही किसानों को विशेष तौर पर कृषि कार्य में पंपसेट व ट्रैक्टर का उपयोग करने के लिए अन्य लोगों की तुलना में 2 रूपये कम दर पर बायो-डीजल मुहैया कराना कंपनी की प्राथमिकताओं में शामिल है.

प्रथम चरण में कोसी के 13 जिलों में बायो-डीजल का सप्लाई होगा शुरू

सरिता डीजल प्राइवेट लिमिटेड प्रथम चरण में कोसी के तेरह जिलो में बायो-डीजल का सप्लाई शुरू करने जा रही है. हलांकि शुरुआत में सीमित उत्पादन की वजह से पंप डीलरशिप की संख्या भी सीमित ही रहेगी. ऐसे में पंप डीलरशिप के लिए एक पंप से दूसरे पंप के बीच कम से कम 10 किलोमीटर दूरी का मानक तय किया गया है.




बायोडीजल पंप की प्री-बुकिंग भी हो चुका है शुरू

बायोडीजल पंप की डीलरशिप के लिए www.saritadiesel.com पर लॉग इन कर diesel pump dealership का फॉर्म भरा जा सकता है अथवा सरिता मोटर्स प्राइवेट लिमिटेड/ सरिता डीजल प्राइवेट लिमिटेड के खगड़िया के चित्रगुप्तनगर स्थित कॉरपोरेट ऑफिस में आवेदन जमा किया जा सकता है.

क्या है बायो-डीजल

बायोडीजल पारंपरिक या ‘जीवाश्म’ डीजल के स्थान पर एक वैकल्पिक ईंधन है. बायोडीजल जैविक स्रोतों से प्राप्त डीजल के जैसा ही गैर-परम्परागत ईंधन है. बायोडीजल नवीनीकरणीय ऊर्जा स्रोतों से बनाया जाता है. यह परम्परागत ईंधनों का एक स्वच्छ विकल्प है. बायोडीजल में कम मात्रा में पट्रोलियम पदार्थ को मिलाया जाता है और विभिन्न प्रकार की गाडियों में प्रयोग किया जा सकता है. बायोडीजल विषैला नही होने के साथ-साथ बायोडिग्रेडेबल भी है. इसको भविष्य के ईंधन के तौर पर देखा जा रहा है. बायोडीजल की सहायता से डीजल वाहनों को चलाने के लिए उनमे किसी प्रकार का तकनीकी परिवर्तन भी नही करना पड़ता है. बायोडीजल प्रयोग में सबसे आसान इंधनों में से एक है और सबसे अच्छी बात यह है कि यह खेती में काम आने वाले उपकरणों को चलाने के लिये सबसे उपयुक्त माना जाता है.


Check Also

चॉकलेट लेने गई मासूम के साथ हैवानियत, आरोपी दुकानदार गिरफ्तार

चॉकलेट लेने गई मासूम के साथ हैवानियत, आरोपी दुकानदार गिरफ्तार

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: