Breaking News

युवक का सिर मुड़वाया,लगाया कालिख-चुना और फिर जमकर पिटाई




लाइव खगड़िया (मुकेश कुमार मिश्र) : यह सही है कि किसी को कानून अपने हाथ में लेने का अधिकार नहीं. लेकिन यह भी एक सच्चाई है कि कभी-कभी हालात ऐसे भी आ जाते हैं जब आक्रोश को काबू में रखना हर के लिए इतना आसान भी नहीं होता. मामले का सामाजिक व कानूनी दो पहलू है और आरोप भी एक-दूसरे पर दोनों ही पक्षों का है. किसकी आरोपों में कितनी सच्चाई है यह तो पुलिस के जांच-पड़ताल के बाद ही सामने आयेगा. दोषी पक्ष चाहे जो भी रहा हो लेकिन इतना तो माना ही जा सकता है कि यह घटना एक सभ्य समाज में कतई शोभा नहीं देता.




मामला जिले के परबत्ता थाना क्षेत्र के एक गांव का है. जहां बुधवार की देर शाम एक विधवा महिला के घर में एक युवक को पकड़े जाने पर ग्रामीणों का आक्रोश काबू से बाहर हो गया और युवक की जमकर पिटाई कर दी गई. इतना ही नहीं पंचायत के सरपंच  एवं ग्रामीणों ने पकड़े गये युवक का सिर मुड़वाकर उसके चेहरे व सिर में कालिख-चुना पोतकर उसे खूंटे में बांध दिया और फिर बेरहमी से उसको पीटा गया. जिसके उपरांत युवक को आक्रोशित ग्रामीणों ने पकड़कर एक कमरे मे बंद कर मामले की सूचना परबत्ता थाना को दिया. बाद में पुलिस मौके पर पहुंच कर युवक को ग्रामीणों के गिरफ्त से बाहर निकाल कर उसे थाना ले आई.

बहरहाल युवक का उस घर में मौजूदगी को लेकर लोगों के बीच कई तरह की चर्चाएं हैं. जबकि युवक द्वारा वहां दवा देने के लिए आने की बातें कही जा रही है. दूसरी तरफ परबत्ता के थाना प्रभारी दीपक कुमार ने बताया है कि पुलिस मामले की छानबीन कर रही है और कानून को अपने हाथ में लेने वाले लोगों पर कार्रवाई होगी. क्षेत्र में यह मामला चर्चाओं में है.


Check Also

शांति, सत्य और करुणा के संदेशवाहक थे महात्मा बुद्ध

शांति, सत्य और करुणा के संदेशवाहक थे महात्मा बुद्ध

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: