Breaking News

सफलता के लिए ईश्वर में विश्वास व आत्मविश्वास दोनों आवश्यक




लाइव खगड़िया (मुकेश कुमार मिश्र) : अखिल विश्व गायत्री परिवार की युवा इकाई प्रज्ञा युवा प्रकोष्ठ परबत्ता के द्वारा बुधवार की सुबह परबत्ता शिव मंदिर के प्रागंण में सप्ताहिक व्यक्तित्व परिष्कार साधना सत्र का आयोजन किया गया. बताया जाता है कि साधना सत्र में युवा पीढ़ी को नकारात्मक मार्ग से हटाकर सकारात्मक दिशा देने और सृजन के मार्ग पर चलाने को प्रेरित किया जाता है.

कार्यक्रम का शुभारंभ वेद-मंत्र गायत्री मंत्र के उच्चारण से किया गया.मौके पर मंच संचालन कर रहे श्रवण आकाश ने कहा कि आज के युवाओं में बुद्धि का अकूत भंडार है.लेकिन सद्बुद्धि नहीं दिखती है.जिसके कारण वह आए दिन एसिड अटैक, दुष्कर्म, भ्रष्टाचार, चोरी,अपराध  जैसे कुकृत्यो में संलिप्त होते जा रहे हैं.इसके बचने के लिए युवाओं को ध्यान साधना की जरूरत है.




वहीं मुख्य वक्ता के रूप मे गायत्री परिवार के  युग प्रवक्ता अभिषेक कुमार ने युवाओं को बताया कि जीवन के किसी भी क्षेत्र में सफल होने के लिए ईश्वर पर विश्वास और आत्म विश्वास दोनों आवश्यक है।किसी एक की कमी रहने पर जीवन की नैया डगमगा सकती है.यदि सिर्फ आत्मविश्वास हो तो वह जीवन में अहंकार पैदा कर जाता है.जबकि सिर्फ ईश्वर में विश्वास पाखंड को जन्म दे जाता है.साथ ही उन्होंने इस सोच को सुदृढ बनाए रखने के लिए गायत्री मंत्र का नियमित  उच्चारण को अत्यधिक उपयोगी बताया.कार्यक्रम की समाप्ति शांतिपाठ से की गई और कार्यक्रम की सफलता में गायत्री परिवार के ज्ञानचंद ,अनिल ,भूपेंद्र बाबू, प्रीतम, अशोक आदि  ने अपनी अहम भूमिका निभाई.


Check Also

न जाने इस घर को लगी किसकी नजर, बिखर गया परिवार

न जाने इस घर को लगी किसकी नजर, बिखर गया परिवार

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: