Breaking News

डीएम ने किया विकास के विभिन्न कार्यों का निरीक्षण, दिया गया आवश्यक निर्देश

लाइव खगड़िया : जिलाधिकारी आलोक रंजन घोष ने बुधवार को परबत्ता प्रखंड के पंचायत में सरकार द्वारा संचालित विभिन्न विकासात्मक कार्यों का निरीक्षण कर लाभुकों एवं ग्रामीणों से फीडबैक लिया एवं संबंधित पदाधिकारियों को आवश्यक दिशा निर्देश दिया. डीएम ने निर्माणाधीन अपशिष्ट प्रसंस्करण इकाई का निरीक्षण, ग्रामीण आवासों का भूमि पूजन, नल जल योजना का निरीक्षण, पौधारोपण एवं सामाजिक सुरक्षा योजनाओं की वस्तुस्थिति की भी जांच किया.

डीएम ने गोगरी अनुमंडल में लोक आस्था का पर्व छठ के मद्देनजर विभिन्न छठ घाटों का निरीक्षण किया. इस दौरान उप विकास आयुक्त संतोष कुमार, गोगरी के अनुमंडल पदाधिकारी अमन कुमार सुमन, प्रखंड विकास पदाधिकारी अखिलेश कुमार, अंचलाधिकारी रंजन कुमार सहित स्थानीय जनप्रतिनिधि व अन्य पदाधिकारी उपस्थित थे. इस क्रम में जिलाधिकारी ने गोगरी जीएन तटबंध स्थित सीढ़ी घाट का निरीक्षण किया. वहीं उन्होंने कार्यपालक पदाधिकारी (नगर परिषद, गोगरी) एवं अंचलाधिकारी को छठ घाट के साफ-सफाई एवं आवश्यक सुविधाओं की व्यवस्था सुनिश्चित करने का निर्देश दिया. इसके बाद जिलाधिकारी ने मड़ैया थाना क्षेत्र में उमानाथ मंदिर के पास स्थित कुढा छठ घाट का निरीक्षण किया.

जिलाधिकारी का काफिला परबत्ता प्रखंड के माधवपुर पंचायत भी पहुंचा और माधवपुर पंचायत के वार्ड नंबर 8 में लोहिया स्वच्छ बिहार अभियान द्वितीय चरण के तहत निर्माणाधीन अपशिष्ट प्रसंस्करण इकाई का निरीक्षण किया और इसे गुणवत्तापूर्ण तरीके से निर्मित कराने का निर्देश दिया. डीएम ने जल जीवन हरियाली मिशन के तहत मनरेगा से किसान रंगीला सिंह के निजी खेत में पौधारोपण किया. वहीं उन्होंने स्थानीय ग्रामीणों को भी पौधारोपण हेतु प्रेरित किया.

इस दौरान पास के टोला की महिलाओं ने जिलाधिकारी के समक्ष संपर्क पथ के निर्माण की मांग रखी. मामले को लेकर जिलाधिकारी ने स्थानीय मुखिया आशुतोष कुमार सिंह उर्फ बंटू सिंह से बातचीत की. वहीं मुखिया ने जिलाधिकारी को जानकारी दिया कि टोला के कुछ लोगों के द्वारा सड़क की जमीन का अतिक्रमण कर लिया गया है. जिसकी वजह से सड़क निर्माण नहीं हो पा रहा है. वहीं डीएम ने अवरोध को हटाने के लिए लोगों से बातचीत की और लोगों को सड़क की जमीन को छोड़ने के लिए तैयार किया गया. फिर जिलाधिकारी ने स्थानीय जनप्रतिनिधियों को सड़क निर्माण कराने का निर्देश दिया.

जिलाधिकारी ने ग्रामीण आवास योजनाओं के संबंध में भी ग्रामीणों से जानकारी ली गई और छूटे हुए एवं नए परिवारों को मुख्यमंत्री आवाज योजना का लाभ दिलाने के लिए ग्रामीण आवास पर्यवेक्षक को निर्देशित किया. डीएम ने प्रधानमंत्री आवास योजना-ग्रामीण के अंतर्गत वार्ड नंबर 8 में राजेंद्र शर्मा के आवास के निर्माण हेतु भूमि पूजन भी कराया. जिलाधिकारी के द्वारा आवास निर्माण हेतु विभिन्न किस्तों की प्राप्ति, आवास निर्माण में लगने वाले समय, मनरेगा से मजदूरी भुगतान की स्थिति एवं गुणवत्ता के संबंध में भी लाभुकों से फीडबैक लिया गया.

जिलाधिकारी ने पंचायत के वार्ड नंबर 7 में पैदल भ्रमण कर मुख्यमंत्री निश्चय योजना अंतर्गत घर-घर नल का जल योजना का निरीक्षण किया. जिलाधिकारी ने जल की आपूर्ति हेतु योजना के तहत निर्मित जल मीनार एवं पेय जल को शुद्ध करने वाले संयंत्रों का भी निरीक्षण किया और पेयजल की गुणवत्ता, ससमय जल की आपूर्ति और इसके अन्य कार्यों में उपयोग के संबंध में ग्रामीणों से फीडबैक प्राप्त किया.

जिलाधिकारी ने विभिन्न वार्डों में सामाजिक सुरक्षा के तहत सरकार द्वारा वृद्धजनों, विधवाओं एवं दिव्यांगजनों को प्रदान किए जा रहे पेंशन के संबंध में भी स्थानीय वृद्धाओं, विधवाओं एवं दिव्यांगजनों से बातचीत किया. इस क्रम में उन्हें जानकारी मिली कि कुछ वृद्धजनों को पेंशन नहीं मिल पा रहा है. ऐसे में उन्होंने प्रखंड विकास पदाधिकारी को शनिवार को कैंप लगाकर पेंशनधारियों का जीवन प्रमाण पत्र बनाने एवं आधार कार्ड में उम्र में सुधार करने सहित योग्य व्यक्तियों के पेंशन संबंधी आवेदन प्राप्त करते हुए आवश्यक कार्रवाई करने का निर्देश दिया.

जिलाधिकारी ने वार्ड नंबर 2 में आंगनवाड़ी एवं सार्वजनिक वितरण प्रणाली के विक्रेता के दुकान की भी जांच किया. इस दौरान एक महिला प्रमिला सिंह की ग्रामीण आवास का लाभ नहीं मिलने की शिकायत पर जिलाधिकारी ने आवास सहायक को इस संबंध में जांचोपरांत आवश्यक कार्रवाई करने का निर्देश दिया. डीएम ने ललिता देवी के मकान में चल रहे स्वास्थ्य उप केंद्र की भी जांच किया. वहीं लोगों ने बताया कि स्वास्थ्य उपकेंद्र सप्ताह में कभी 1 दिन खुलता है और शेष दिन बंद रहता है. जबकि ललिता देवी ने विगत कई माह किराया प्राप्त नहीं होने की शिकायत जिलाधिकारी से की. साथ ही मुरादपुर के ही निवासी राजेंद्र झा ने बिजली का बिल अधिक आने की शिकायत किया. जिस पर डीएम ने उचित कार्रवाई का निर्देश दिया. डीएम ने जोरावरपुर पंचायत के कज्जलवन वार्ड नंबर 17 में भी छठ घाट का निरीक्षण किया. साथ ही उन्होंने अगुआनी घाट का भी जायजा लिया.

Check Also

बिना दवा भरे एवं कमर की जगह पेट में इंजेक्शन लगाने का आरोप, जमकर हंगामा

बिना दवा भरे एवं कमर की जगह पेट में इंजेक्शन लगाने का आरोप, जमकर हंगामा

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: