Breaking News

पदयात्रा को जनसमर्थन, महासत्याग्रह एक नया इतिहास लिखने के मुहाने पर




लाइव खगड़िया : जिले में सरकारी मेडिकल कॉलेज खोलने की मांग को लेकर एक अनोखा आंदोलन इतिहास लिखने के मुहाने पर खड़ा है. ‘जय खगड़िया’ नामक इस आंदोलन के क्रम में दो अक्टूबर को संसारपुर व मथुरापुर के मैदान में महासत्याग्रह प्रस्तावित है. इसके पूर्व एक अक्टूबर को जिले के विभिन्न चार जगहों से पदयात्रा निकाली गई. इस क्रम में जिले के अगुवानी घाट, बेलदौर, बेला और हरिपुर से निकली पदयात्रा को आमजनों सहित विभिन्न सामाजिक एवं राजनीतिक दलों का भरपूर  समर्थन मिला और यदि यह जज्बा व जोश यूं ही कायम रहा तो बुधवार को जिला एक बड़े आंदोलन गवाह बनेगा.

बेला से निकाली गई पदयात्रा का नेतृत्व चंद्रभूषण साह कर रहे हैं. जो जलकौरा, लाभगांव, कासिमपुर, कोठिया, कुतुबपुर होते हुए कल मथुरापुर मैदान पहुंचेगा. जबकि हरिपुर से निकाली गई पदयात्रा का नेतृत्व पतंजलि योग समिति के जिलाध्यक्ष मिथिलेश्वर प्रसाद सिंह और प्रफुल्ल चंद्र घोष कर रहे हैं. जो अलौली, संतोष, चातर, बछौता होते हुए अगले दिन मथुरापुर मैदान पहुंचेगा.




इसी तरह अगुवानी ने निकाली गई पदयात्रा का नेतृत्व ई.धर्मेन्द्र के द्वारा किया जा रहा है. जो मड़ैया, जमालपुर, महेशखूंट, मानसी होते हुए कल संसारपुर मैदान पहुंचेंगा. जबकि बेलदौर से निकली पदयात्रा का नेतृत्व ‘जय खगड़िया’ आंदोलन ने संयोजक डॉक्टर विवेकानंद एवं अजय प्रभाकर सिंह के द्वारा किया जा रहा है. जो करूआ मोड़, बलहा, सैदपुर, अमनी, मांड़र होते हुए बुधवार को संसारपुर मैदान पहुंचेगा.

उल्लेखनीय है कि विभिन्न जगहों से निकाली गई पदयात्रा में शामिल लोग रात्रि विश्राम रास्ते में ही करेंगे और दो अक्टूबर को पदयात्री कार्यक्रम स्थल पहुंचकर महासत्याग्रह कार्यक्रम में भाग लेंगे.


Check Also

शांति, सत्य और करुणा के संदेशवाहक थे महात्मा बुद्ध

शांति, सत्य और करुणा के संदेशवाहक थे महात्मा बुद्ध

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: