Breaking News

पौष माह धार्मिक व आध्यात्मिक चिंतन-मनन के लिये श्रेष्ठ : स्वामी आगमानंद




लाइव खगड़िया (मनोज कुमार पटेल) : “पौष माह में पूजन-भजन और लग्न महूर्त को लेकर कुछ भ्रांतियां हैं, अपितु धनुर्मास में किया गया सत्संग और भजन अत्यंत कल्याणकारी होता है.” यह बातें शुक्रवार की देर शाम जिले के बेलदौर प्रखंड के मध्य विद्यालय पनसलवा में आयोजित एक दिवसीय सत्संग के दौरान श्री शिवशक्ति योगपीठ नवगछिया के पीठाधीश्वर स्वामी आगमानंद जी महाराज ने कही.इसके पूर्व सत्संग का उद्घाटन आगन्तुक कथावाचकों और महानुभावों द्वारा दीप प्रज्वलित कर किया गया.

वहीं प्रवचन के दौरान स्वामी अगमानंद ने पौस मास मे सत्संग एवं ईश्वर भक्ति को पुण्य व फलदायी बताते हुऐ कहा कि धार्मिक व आध्यात्मिक चिंतन-मनन के लिऐ यह माह श्रेष्ठ होता है.पोष अमावस्या पर पितरो के शांति के लिऐ उपवास रखने से पितृगण के साथ ही ब्रह्म, इंद्र, सूर्य, अग्नि, वायु,ऋषि एवं पशु पक्षी भी तृप्त होते है.

मौके पर उन्होंने पौष माह के महत्ता से श्रद्धालुओं को अवगत कराते हुए कहा कि इस मास मे सूर्य धनु राशि मे रहता है.लोगो मे भ्रांतियां है कि इस माह किये गये कार्य शुभ नही होते.जबकि दूसरे देशो मे ऐसी मान्यता नही है.क्योंकि इस मास में ही भगवान विष्णु एवं माता लक्ष्मी का अवतरण हुआ था.इसी मास मे उनका पाणिग्रहण भी हुआ था.साथ ही उन्होंने भजन-कीर्तन की मधुर झंकार से श्रद्धालुओं को मंत्रमुग्ध करवाते हुए इसकी महत्ता पर भी प्रकाश डाला. 

वहीं स्वामी आगमानंद जी महाराज एवं अन्य प्रवचनकर्ताओ ने कहा कि भजन भगवान की भक्ति का सबसे सुगम मार्ग है.सभी पंथ मे ईश्वर भक्ति के मार्ग बताये जाते हैं.श्रद्धालुओं को जो सहज उपाय लगे उसे अपनाकर भगवान भक्ति मे लीन हो जाना चाहिए.

वहीं उन्होंने सत्कर्मों की सरल व्याख्या करते हुए कहा कि कई जन्मों के श्रेष्ठ कर्म का मानव शरीर प्रतिफल है.ऐसे में अच्छे कर्मो के साथ जीवन को आनंदमयी बनाया जा सकता है.

इससे पूर्व स्वामी उमाकान्तानन्द,प्रेमशंकर भारती और स्वामी मनवानंद ने भी उपस्थित श्रद्धालुओं के बीच सत्संग भजन प्रस्तुत किया.जिसके उपरांत पीठ के योग गुरु विनोद विश्वास ने पूर्ण भुजंगासन व मयूरासन तथा राम बालक जी ने सूर्य नमस्कार व गरुणासन का प्रदर्शन किया.भक्तिमय भजन-कीर्तन से आसपास का माहौल पूर्णतः आध्यात्मिक बना रहा.

मौके पर स्थानीय विधायक पन्नालाल सिंह पटेल,प्रवीण चौरसिया,नुतन कुमार सिंह पटेल,संजय सिंह मणिकान्त सिंह, पप्पू सिंह रणवीर सिंह ,अमर कुमार ,सिकंदर सिंह ,बेचनारायण ठाकुर,राजकपूर,गिरीश तिवारी,जय प्रकाश सिंह सहित दर्जनो श्रद्धालु सत्संगामृत का रसपान कर देर रात तक करते रहे

Check Also

सर्वदलीय छात्र संघ के गठन को लेकर कवायद शुरू

सर्वदलीय छात्र संघ के गठन को लेकर कवायद शुरू

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: