Breaking News

आजादी के वर्षों बाद भी सर्वहारा व वंचित वर्ग नरकीय जीवन जीने को मजबूर : संजीव डोम




लाइव खगड़िया : बहिष्कृत हितकारी संगठन के बैनर तले बुधवार को अलौली प्रखंड अंतर्गत कोदरा गाँव में ‘यूथ फैडरेशन आफ इंडिया’ के अंतर्जिला इकाईयों की बैठक आयोजित की गई.जिसकी अध्यक्षता जगदीश सदा और मंच संचालन रामविलास सदा ने किया.

मौके पर बहिष्कृत हितकारी संगठन के संजीव डोम ने कहा कि फरकिया सात नदियों से घिरा हुआ है.जहां बड़ी संख्या में एक समुदाय जो वास्तव में दुखी है,वे लोकतंत्र का शिकार हो कर रह गया है.जिसे मुशहर समुदाय के नाम से जाना जाता है.

वहीं उन्होंने कहा कि पूरी भारत की थ्योरी बदली,समय-समय पर अर्थ व्यवस्था बदला,निजाम बदला लेकिन मुशहर समाज सिर्फ अनुसूचित जनजाति से अनुसूचित जाति में बदल कर रह गया.आज पूरे बिहार में जिसकी आबादी साठ लाख से उपर है वो आजादी के 72 साल बाद भी सर्वहारा,वंचित व उपेक्षित नरकीय जीवन जीने को मजबूर हैं और इस समुदाय को हर कोई ठगा है.लेकिन अब संगठन आर-पार की लड़ाई के लिए तैयार है.



वहीं यूथ फैडरेशन के नेताओं ने गांवों गांवो से युवाओं का निकलने का आह्वान करते हुए कहा कि पिछले 72 सालो का हिसाब चाहिए.वर्ना इस बार झूठे लोकतंत्र का पर्व नहीं मनाएगें.साथ ही कहा गया कि जबतक मुशहर आजाद नहीं होता तब तक संघर्ष जारी है.

कार्यक्रम में 2 हजार से अधिक युवाओं ने यूथ फैडरेशन की सदस्यता ग्रहण किया.वहीं “करो राज तिलक की तैयारी हम आजादी लेकर आ रहे” का शपथ लिया.इस अवसर पर खगड़िया सहित समस्तीपुर,बेगूसराय,दरभंगा,सहरसा जिले के मुशहर समुदाय के लोग शामिल थे.मौके पर अर्जुन सदा,रामविलास सदा,गनेशी सदा,लखन सदा आदि ने भी संबोधित किया.



Check Also

अलग – अलग घटनाओं में दो की मौत

अलग - अलग घटनाओं में दो की मौत

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: