Breaking News

3 करोड़ की लागत से 15 माह में तैयार होगा ग्रामीण स्वरोजगार प्रशिक्षण संस्थान का भवन

लाइव खगड़िया : जिले के सदर प्रखंड में 3 करोड़ की लागत से बनने वाला ग्रामीण स्वरोजगार प्रशिक्षण संस्थान का भवन 15 महीने में तैयार हो जायेगा. बुधवार को संस्थान का भूमि पूजन एवं शिलान्यास जिलाधिकारी आलोक रंजन घोष के द्वारा किया गया.

मौके पर जिलाधिकारी ने ग्रामीण स्वरोजगार प्रशिक्षण संस्थान का भवन बनने के बाद कम से कम 1000 से ज्यादा बेरोजगारों को स्वरोजगार हेतु प्रशिक्षण दिलाने एवं उन्हें बैंक से क्रेडिट लिंकेज अर्थात ऋण प्रदान करने का निर्देश दिया. वहीं उन्होंने बताया कि वर्तमान में 650 लोगों को ग्रामीण स्वरोजगार प्रशिक्षण संस्थान में प्रशिक्षण देने का लक्ष्य रखा गया है और इसके विरुद्ध 375 लाभुकों को प्रशिक्षण दिया जा चुका है. साथ ही उन्होंने कहा कि ग्रामीण स्वरोजगार प्रशिक्षण संस्थान का भवन 3 करोड रुपए की लागत से 15 महीने में बनकर तैयार हो जाएगा और इस बीच संस्थान का कार्य समाहरणालय परिसर के पीछे बने सरकारी भवन में चलता रहेगा. वहीं जिलाधिकारी ने 3 नवंबर को वृहत पैमाने पर कैंप आयोजित कर प्रधानमंत्री रोजगार सृजन योजना के तहत बेरोजगारों को ऋण उपलब्ध कराने का निर्देश दिया. साथ ही उपस्थित बैंकरों को जिले में साख जमा अनुपात में वृद्धि लाने को भी निर्दशित किया गया.

इस अवसर पर यूनियन बैंक के प्रबंधक सोनू कुमार ने बताया कि ग्रामीण स्वरोजगार प्रशिक्षण संस्थान बिहार सरकार के तत्वावधान में कार्यरत है और इसके निर्माण में ग्रामीण कार्य विभाग, भारत सरकार और अग्रणी बैंक की भूमिका रहती है. यह योजना 2009 से चल रही है और खगड़िया में 240 बैचों में अब तक 8400 प्रशिक्षुओं को स्वरोजगार हेतु प्रशिक्षण दिया जा चुका है और उनमें से कईयों को क्रेडिट लिंकेज भी प्रदान किया गया है.

बताया जाता है कि यूनियन ग्रामीण स्वरोजगार प्रशिक्षण संस्थान भवन में 60 प्रशिक्षुओं के आवासन के साथ मास्टर ट्रेनरों के आवासन की भी व्यवस्था रहेगी. साथ ही कैंटीन की भी सुविधा रहेगी. जिससे दूरदराज के लोग हॉस्टल में रहकर प्रशिक्षण प्राप्त कर सकेंगे. भवन के निर्मित हो जाने एवं प्रशिक्षण हेतु आवश्यक उपकरणों एवं मशीनरी आदि के अधिष्ठापन के बाद गुणवत्तापूर्ण प्रशिक्षण विभिन्न विधाओं में प्रशिक्षुओं को दिया जा सकेगा और रोजगार का अवसर सृजित होगा. वहीं बताया गया कि यूनियन ग्रामीण स्वरोजगार प्रशिक्षण संस्थान में 10 से लेकर 30 दिवसीय प्रशिक्षण 62 विभिन्न विधाओं में निःशुल्क प्रदान किया जाता है. फिलहाल सात क्षेत्रों में स्वरोजगार हेतु प्रशिक्षण दिलाने की व्यवस्था है और भवन निर्मित हो जाने पर सभी क्षेत्रों में प्रशिक्षण देना संभव हो जायेगा.

ग्रामीण स्वरोजगार प्रशिक्षण संस्थान में गाय पालन एवं वर्मी कंपोस्ट, मुर्गी पालन, बकरी पालन, ब्यूटी पार्लर, महिलाओं के लिए ड्रेस डिजाइनिंग, सॉफ्ट खिलौना निर्माण, मशरूम की खेती, पेपर प्लेट निर्माण, कृषि उद्यम, अगरबत्ती निर्माण, सब्जी खेती एवं नर्सरी, पापड़ अचार एवं मसाला पाउडर निर्माण, ज्वेलरी निर्माण, हाउस वायरिंग, फोटोग्राफी व वीडियोग्राफी, मल्टीफोन सर्विसिंग, घरेलू विद्युत उपकरण निर्माण व मरम्मत, दोपहिया वाहन सर्विसिंग आदि जैसे कोर्स के तहत प्रशिक्षण प्रशिक्षुओं को दिया जाता है.

मौके पर ज्ञान रंजन सारंगी (क्षेत्र महाप्रबंधक, यूनियन बैंक, बिहार- झारखंड), परशुराम सिंह (क्षेत्र प्रमुख, यूनियन बैंक, भागलपुर), संतोष कुमार (उप विकास आयुक्त खगड़िया), सोनू कुमार (अग्रणी बैंक प्रबंधक खगड़िया सह प्रबंधक, यूनियन बैंक) सहित अन्य बैंक के कर्मी उपस्थित थे.

Check Also

बाल दिवस : गणितीय विधि से बनाया गया चाचा नेहरू की आकृति रहा आकर्षण का केंद्र

बाल दिवस : गणितीय विधि से बनाया गया चाचा नेहरू की आकृति रहा आकर्षण का केंद्र

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: