Breaking News

विरासत में मिली कला को बखूबी आगे बढ़ा रहें हैं मनीष व राहुल

लाइव खगड़िया (मुकेश कुमार मिश्र) : विरासत में मिली कला को मनीष मानस व राहुल बखूबी आगे बढ़ा रहे हैं. संगीत के क्षेत्र में दोनों ने एक अलग पहचान बना ली है और नित्य नये मुकाम को हासिल कर रहे हैं. दोनों की हर दिन फेसबुक लाइव के माध्यम से संगीत की महफिल सजती है. जिसमें सिर्फ बिहार ही नहीं बल्कि अन्य राज्यों से भी संगीत प्रेमी जुड़ते हैं.

भागलपुर जिले के सुल्तानगंज प्रखंड अंतर्गत भवनाथपुर गांव निवासी स्व जगदीश राय व स्वर्ण माला देवी के पुत्र संगीत कलाकार मनीष मानस एवं पनसल्ला निवासी चर्चित ग़ज़ल गायक सुधाकर चौधरी व सुधा देवी के पुत्र तबला वादक राहुल कुमार की जोड़ी इन दिनों सोसल मीडिया पर धमाल मचा रखा है. संगीत कलाकार मनीष मानस को मशहूर तबला वादक पंडित लालजी मल्लिक एवं सितार वादक शिवबालक तिवारी के सानिध्य में संगीत को तराशने का सौभाग्य प्राप्त हुआ हे. उसके बाद उन्होंने प्राचीन कला केंद्र चंडीगढ़ से संगीत की डिग्री प्राप्त की है. मनीष मानस का सुगम संगीत, गजल, भजन व लोकगीत काफी पसंद की जाती है. वे उत्तर भारत के विभिन्न राज्यों में संगीत प्रेमियों के बीच अपनी संगीत को प्रस्तुत कर चुके हैं. गजल गायन की शिक्षा उन्होंने भागलपुर के चर्चित ग़ज़ल गायक कलाकार सुधाकर चौधरी से प्राप्त किया है.

जबकि तबला वादक राहुल कुमार संगीत कलाकार मनीष मानस की मखमली आवाज को अपनी तबला की धून से मिठास भरने का कार्य अनवरत करते आ रहे हैं. तबला वादक राहुल कुमार इलाहाबाद प्रयाग संगीत समिति से प्रभाकर प्रवीण की डिग्री प्राप्त कर चुके है. संगीत कलाकार मनीष मानस विगत 20 वर्षों से एवं तबला वादक राहुल कुमार 13 वर्षों से संगीत साधना में जूटे हुए हैं. दोनों ने बताया कि उन्हें विरासत में संगीत मिली है. जिसे वे शालीनता से निभाते आ रहे हैं‌. वहीं उन्होंने कहा कि संगीत एक साधना है और इसका कोई शॉर्टकट नहीं होता है. अच्छे गुरु का मार्गदर्शन भी संगीत के क्षेत्र में जरूरी है.

Check Also

मुंगेर रेल सह सड़क पुल का उद्घाटन कल

लाइव खगड़िया (मनीष कुमार) : बिहार के लोगों को मुंगेर रेल सह सड़क पुल के उद्घाटन …

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: