Breaking News

शिक्षक अभ्यार्थी की पिटाई का मामला पहुंचा मानवाधिकार आयोग, अधिवक्ता अजिताभ ने दायर किया परिवाद

लाइव खगड़िया : पटना में आंदोलन कर रहे शिक्षक अभ्यर्थी की बेरहमी से पिटाई का मामला राज्य मानवाधिकार आयोग पहुंच गया है. खगडिया सिविल कोर्ट के अधिवक्ता सह पत्रकार अजिताभ सिन्हा ने परिवाद दायर करते हुए पटना के एडीएम के के सिंह के खिलाफ एफआईआर दर्ज करने का आदेश राज्य सरकार को देने एवं पीड़ित को समुचित मुआवजा दिलाने का अनुरोध आयोग से किया है.

शिकायतकर्ता अजिताभ सिन्हा ने आयोग को बताया है कि बिहार के शिक्षक अभियार्थियों ने नियुक्ति प्रक्रिया शुरू करने की मांग को लेकर 22 मार्च को पटना में राजभवन मार्च का आयोजन किया था. इस दौरान प्रदर्शनकारियों को डाक बंगला चौराहे पर रोक दिया गया. वहीं एक अभ्यार्थी नजरुल आलम भी अपने हाथ में तिरंगा लेकर धरना पर बैठे हुए थे. इस दौरान पटना के एडीएम के के सिंह वहां पहुंचे और नजरुल आलम का बाल पकड़ कर घसीटवाया और फिर वे स्वयं बेंत लेकर उन पर बेरहमी से टूट पड़े. इस क्रम में एडीएम ने राष्ट्रीय ध्वज का भी अपमान किया और नजरुल के सिर पर भी गंभीर प्रहार किया गया. घटना में शांतिपूर्ण ढंग से प्रदर्शन कर रहे नजरुल गंभीर रूप से घायल हो गए.

साथ ही शिकायतकर्ता ने आयोग को बताया है कि इस घटनाक्रम को पूरे देश व विदेश में देखा गया और एडीएम की उकसाने वाली कार्रवाई ने प्रदेश का नाम खराब किया है. साथ ही उन्होंने घटना को मानवाधिकार का गंभीर रूप से हनन बताते हुए आयोग से एडीएम के के सिंह के खिलाफ एफआईआर दर्ज करने का आदेश राज्य सरकार को देने एवं पीड़ित को मुआवजा देने की दिशा में कार्रवाई का अनुरोध किया है.

Check Also

टल गया रेल हादसा, दुर्घटना होने से बाल-बाल बची वैशाली एक्सप्रेस

टल गया रेल हादसा, दुर्घटना होने से बाल-बाल बची वैशाली एक्सप्रेस

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: