Breaking News

कॉलेज की समस्याओं को लेकर छात्रों ने बनाया प्राचार्य को बंदी,जमकर किया नारेबाजी

लाइव खगड़िया : स्थानीय कोशी महाविद्यालय में छात्र युवा शक्ति एवं जन अधिकार छात्र परिषद के छात्र नेताओं के द्वारा शुक्रवार को कॉलेज के प्रभारी प्राचार्य संजीव नंदन शर्मा एवं वर्शर एस.सी.आर.चंदेल को लगभग 2 घंटे तक प्राचार्य कक्ष में तालाबंदी कर बंदी बनाकर रखा गया.इस दौरान छात्र युवा शक्ति जिला अध्यक्ष रौशन कुमार के नेतृत्व में छात्रों ने कार्यालय का को घेर महाविद्यालय व विश्वविद्यालय प्रशासन के विरोध में जमकर नारेबाजी की.वहीं छात्र युवा शक्ति के जिलाध्यक्ष रौशन कुमार ने छात्रों से महाविद्यालय में पढ़ाई-लड़ाई साथ-साथ करने की अपील करते हिए कहा कि ताकि कॉलेज की बदतर स्थिति में सुधार हो सके.जबकि कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रहे छात्र संघ के कोषाध्यक्ष राजा कुमार व संयुक्त सचिव अंकित कुमार ने संयुक्त रूप से कॉलेज एवं विश्वविद्यालय प्रशासन से मांग रखते हुए कॉलेज में स्थाई प्राचार्य नियुक्त,शिक्षकों की कमी को दूर करने जैसी मांगों को रखा.वहीं कॉलेज के छात्र नेता निलेश कुमार सिक्सर एवं सुशांत सिंह चंदेल ने कहा कि कॉलेज के मूलभूत समस्याओं का समाधान जल्द करने,एनसीसी कोर्स को अविलंब शुरू करने,साफ-सफाई की  व्यवस्था करने आदि की मांग रखते हुए कहा कि यदि ऐसा नहीं होता है तो  कॉलेज में पूर्णरूपेण तालाबंदी कर दिया जायेगा.मौके पर छात्र युवा शक्ति के जिला उपाध्यक्ष नंदन कुमार एवं अभिषेक कुमार ने संबोधित करते हुए छात्र छात्राओं से नियमित रूर से कक्षा में उपस्थित रहने की अपील की.जबकि छात्र युवा शक्ति के जिला उपाध्यक्ष प्रिंस कुमार,सुजीत कुमार, सलाम कुमार ने सवाल खड़ा करते हुए कहा कि आखिर कब तक छात्र-छात्राएं कॉलेज में ठगी महसूस करते रहेंगे ? मौके पर अमृत कुमार, निखिल कुमार,सुमन कुमार,भास्कर कुमार, सदानंद कुमार,बादशाह कुमार,अंशु कुमार,प्रीतम कुमार,राहुल कुमार,सोहन कुमार,रोहित कुमार,साहिल कुमार,अजीत कुमार,सर्वजीत कुमार,गौरव कुमार,सौरभ कुमार,बबलू,अजय दोहा, अभिजीत आदि उपस्थित थे.

इसे भी पढें : KCDA का चुनाव स्थगित,कुल 12 में से 11 सदस्यों ने लिया नामांकन वापस,1 का पर्चा रद्द

Check Also

कलश स्थापना के साथ शारदीय नवरात्र शुरू, संध्या पूजन के लिए उमड़ी श्रद्धालुओं की भीड़

कलश स्थापना के साथ शारदीय नवरात्र शुरू, संध्या पूजन के लिए उमड़ी श्रद्धालुओं की भीड़

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: