Breaking News

सुप्रीम कोर्ट के फैसले से शिक्षकों में मायूसी,पुनर्विचार याचिका होगा दाखिल




लाइव खगड़िया : समान काम के बदले समान वेतन मामले में सुप्रीम कोर्ट के फैसले से जिला सहित बिहार के नियोजित शिक्षकों के बीच मायूसी छा गई है. उल्लेखनीय है कि बिहार माध्यमिक शिक्षक संघ ने प्रदेश में नियोजित शिक्षकों के लिए समान काम समान वेतन की मांग पर एक याचिका पटना हाइकोर्ट में दाखिल किया था. आठ वर्षों तक चली लंबी सुनवाई के बाद पटना हाईकोर्ट ने वर्ष 2017 में अपना फैसला बिहार माध्यमिक शिक्षक संघ के पक्ष में दिया था. लेकिन बिहार सरकार पटना हाइकोर्ट के इस फैसले के विरोध में सुप्रीम कोर्ट चली गई थी और सुप्रीम कोर्ट ने पटना हाइकोर्ट के फैसले को पलट दिया.

मनीष कुमार सिंह, शिक्षक नेता

इधर सुप्रीम कोर्ट का फैसला सामने आने के बाद बिहार पंचायत-नगर प्रारंभिक शिक्षक संघ के प्रदेश उपाध्यक्ष सह जिलाध्यक्ष मनीष कुमार सिंह ने प्रेस विज्ञप्ति जारी करते हुए कहा है कि यह फैसला राज्य व केन्द्र सरकार के दवाब में लिया गया है. जिससे प्रदेश के लगभग चार लाख नियोजित शिक्षकों के बीच आक्रोश है. वहीं उन्होंने कहा है कि आचार संहिता समाप्त होने के बाद मामले को लेकर राज्यव्यापी आंदोलन की तैयारी की जायेगी. जिसके तहत सड़क से लेकर संसद तक आंदोलन चलाया जायेगा. साथ ही उन्होंने कहा है कि यदि आवश्यकता पड़ी तो आने वाले विधान सभा चुनाव में बिहार के नियोजित शिक्षक प्रदेश के सभी सीटों पर एनडीए का जमकर विरोध करेंगे. वहीं उन्होंने कहा है कि इन सभी कार्यक्रमों के लिए शिक्षकों ने कमर कस ली है और इसकी सफलता के लिए संघ के अशोक यादव, पंकज राय, निलेश चौधरी, आलोक रंजन, दयानंद रजक, राकेश कुमार, रविशंकर कुमार, आदित्य कुशवाहा, तिरंजय कुमार, प्रभाष कर्ण, सुबोध कुमार, मनीष प्रियदर्शी सहित जिले के अन्य शिक्षकों से संपर्क स्थापित किया जा रहा है.




दूसरी तरफ सुप्रीम कोर्ट के फैसले से नाराज नियोजित शिक्षकों ने शुक्रवार को प्राथमिक शिक्षक संघ के बैनर तले प्राथमिक विद्यालय, कात्यायनी स्थान में एक बैठक का आयोजन किया. जिसकी अध्यक्षता संघ के प्रखंड अध्यक्ष सुधीर कुमार ने किया. वहीं उन्होंने अपने संबोधन में कहा कि शिक्षकों के साथ नाइंसाफी हुई है और फिर से सुप्रीम कोर्ट में इस फैसले पर पुनर्विचार के लिए याचिका दायर की जाएगी. साथ ही उन्होंने कहा कि कोर्ट के फैसले से तमाम नियोजित शिक्षक स्तब्ध हैं.

बैठक को शिक्षक आशीष कुमार भारती ने संबोधित करते हुए कहा कि आज का दिन नियोजित शिक्षकों के लिए काला दिन साबित हुआ है. मौके पर शिक्षक जय प्रकाश ठाकुर, उमेश कुमार, अरबिंद कुमार, अनिल कुमार, नवीन कुमार, राजेश कुमार रौशन, मनोहर पासवान, महेश चंद्र भारती आदि मौजूद थे.

पुनर्विचार याचिका होगा दाखिल

बिहार के नियोजित शिक्षकों ने अपनी लड़ाई जारी रखने का फैसला लिया है. शुक्रवार को समान काम के लिए समान वेतन मामले में सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद शिक्षकों ने पुनर्विचार याचिका दाखिल करने का फैसला लिया है. मीडिया रिपोर्ट के अनुसार शिक्षकों के वकील राकेश कुमार मिश्रा ने बताया है कि इस फैसले के खिलाफ हम एक पुनर्विचार याचिका दाखिल करेंगे.



Check Also

‘हम, भारत के लोग, भारत को एक…

'हम, भारत के लोग, भारत को एक...

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: