Breaking News

आतंकी हमले के विरोध में युवा शक्ति ने निकला आक्रोश मार्च




लाइव खगड़िया : जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में भारतीय जवानों पर हुए आतंकी हमले के विरोध में युवा शक्ति के जिला इकाई के द्वारा शुक्रवार को आक्रोश मार्च निकला गया.इसके पूर्व युवा शक्ति के कार्यकर्ता समाहरणालय के समक्ष एकत्रित हुए और वहीं से आक्रोश मार्च निकाला गया.जो शहर के विभिन्न मार्गों का भ्रमण करते हुए राजेंद्र चौक पहुंचा और वहीं युवा नेता नसीमउद्दीन उर्फ लंबू के नेतृत्व में पाकिस्तानी झंडे को जलाया गया.आक्रोश मार्च के दौरान आतंकवाद विरोधी नारे जमकर लगाये गये.

मौके पर एक नुक्कड़ सभा का भी आयोजन किया गया.जिसकी अध्यक्षता नसीम उद्दीन उर्फ लंबू एवं संचालन युवा शक्ति के प्रदेश महासचिव शिवराज यादव ने किया गया.वहीं युवा शक्ति के प्रदेश अध्यक्ष नागेंद्र सिंह त्यागी ने शहीद जवानों को नमन करते हुए आतंकवाद के विरूद्ध भारत सरकार के ढुलमुल रवैया पर आक्रोश व्यक्त किया.जबकि युवा शक्ति के प्रदेश महासचिव शिवराज यादव ने कहा कि भारत सरकार को सबसे पहले देश के आंतरिक आतंकवाद को समाप्त करना होगा.उसके बाद ही बाहरी आतंकवाद को समाप्त किया जा सकता है.साथ ही उन्होंने देश के अंदर सुरक्षा में हो रहे चूक पर अंकुश लगाने की बात कही.




वहीं अपने संबोधन में नसीमउद्दीन उर्फ लंबू ने कहा कि हर भारतीय को यह सोचना होगा कि देश ही हमारा मंदिर, मस्जिद, गुरुद्वारा और चर्च है और देश का सबसे बड़ा दुश्मन धर्म, वर्ण, जाति और संप्रदायवाद है.जबकि युवा शक्ति के जिलाध्यक्ष चंदन सिंह और कार्यकारी जिलाध्यक्ष अभय कुमार गुड्डू ने कहा कि सरकार को एक ऐसा कानून बनाया जाना चाहिए जिसमें किसी अन्य विभाग में सेवा देने के पूर्व हर को कम से कम 5 वर्ष तक देश की सीमा पर सेना के रूप में सेवा देना अनिवार्य हो.मौके पर सुनील चौरसिया, किशोर दास, विक्की आर्या, मनोज पासवान, मनीष कुमार, राजा कुमार, निलेश कुमार, मो.आलम राही, रवि चौरसिया, अविनाश यादव आदि मौजूद थे.



Check Also

इमरजेंसी में 112 नंबर डायल करते ही तुरंत पहुंच जायेगी रेस्पांस टीम

इमरजेंसी में 112 नंबर डायल करते ही तुरंत पहुंच जायेगी रेस्पांस टीम

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: