Breaking News

जिला परिषद अध्यक्ष ने दूध शीतक केन्द्र को डेयरी बनाने की उठाई मांग




लाइव खगड़िया : जिला परिषद के अध्यक्ष कुमारी श्वेता भारती ने जिले के दूध शीतक केंद्र को डेयरी बनाने की मांग उठाई है. इस संबंध में उन्होंने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार सहित बिहार सरकार के लघु सिंचाई एवं आपदा मंत्री दिनेश चंद्र यादव व पशु एवं मत्स्य संसाधन मंत्री पशुपति कुमार पारस को पत्र लिखा है.

पत्र में जिला परिषद के अध्यक्ष ने उल्लेख किया है कि जिले में लगभग दो लाख लीटर दूध प्रतिदिन उत्पादन होता है.लेकिन जिले में डेयरी प्लांट नहीं होने से यहां का दूध बरौनी डेयरी चला जाता है. जिससे दुग्ध उत्पादक किसानों को अपने दूध का उचित मूल्य नहीं मिल पाता है.




साथ ही उन्होंने कहा है कि पड़ोसी जिला भागलपुर की दुग्ध उत्पादन क्षमता 50 हजार लीटर प्रतिदिन की है.जबकि सुपौल में 20 हजार लीटर एवं पूर्णिया में 30 हजार लीटर दूध प्रतिदिन निकाला जाता है.एक तरफ खगड़िया से कम दूध उत्पाद करने वाले इन सभी पड़ोसी जिले में डेयरी प्लांट है.दूसरी तरफ इन पड़ोसी जिले से काफी अधिक मात्रा में अधिक दूध उत्पादन करने वाले जिले में डेयरी नहीं है.जिससे यहां के किसानों को अपने दूध का उचित मूल्य नहीं मिल पा रहा है.साथ ही दूध उत्पादन के क्षेत्र में जिले की अपनी पहचान भी नहीं बन पा रही है.वहीं उन्होंने कहा है कि यदि जिले में डेयरी प्लांट लगाया जाता है तो यहां के  करीब 5 हजार बेरोजगारों को रोजगार भी उपलब्ध हो जायेगा.

दूसरी तरफ जिला परिषद अध्यक्ष के पत्र के आलोक में लघु जल संसाधन एवं आपदा प्रबंधन मंत्री दिनेश चंद्र यादव ने त्वरित पहल करते हुए कोऑपरेटिव मिल्क फेडरेशन पटना के अध्यक्ष से जिले में डेयरी प्लांट स्थापित करने का आग्रह किया है.ताकि यहां के पशुपालक किसानों को अपने दूध का उचित कीमत और जिले को अपनी पहचान मिल सके.



Check Also

जदयू कार्यकर्ताओं ने निकाला सतर्कता एवं जागरूकता मार्च

जदयू कार्यकर्ताओं ने निकाला सतर्कता एवं जागरूकता मार्च

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: