Breaking News

डिजिटल युग ने पुराने पत्रकारों को नई भूमिका निभाने को कर दिया मजबूर

लाइव खगड़िया : राष्ट्रीय प्रेस दिवस के अवसर पर शुक्रवार को स्थानीय प्रेस क्लब में आयोजित कार्यक्रम का उद्घाटन जिलाधिकारी अनिरूद्ध कुमार.पुलिस अधीक्षक मीनू कुमारी,जनसंपर्क के प्रभारी पदाधिकारी संजय कुमार वर्मा,लोकपाल श्रीकांत यादव एवं मीडिया प्रतिनिधियों ने संयुक्त रूप से दीप प्रज्वलित कर किया.कार्यक्रम में मंच संचालन सूर्य नारायण भारती एवं चंद्रशेखर के द्वारा किया गया. 


मौके पर ‘डिजिटल युग में पत्रकारिता आचारनीति और चुनौतियां’ विषय पर एक परिचर्चा का आयोजन किया गया.वहीं जिलाधिकारी ने अपने संबोधन में कहा कि डिजिटल तकनीक ने अंतर्वस्तु की नकल करना और उसे वितरित करना बहुत ही आसान बना दिया है.सूचना के क्षेत्र में सामाजिक और सांस्कृतिक प्रवृत्ति के साथ विकसित तकनीक ने नये लोगों के लिए संभावनाओं का नया रास्ता खोल दिया है.साथ ही उन्होंने राष्ट्रीय प्रेस दिवस की बधाई देते हुए कहा कि पत्रकार समाज का आईना होता है.

वहीं पुलिस अधीक्षक मीनू कुमारी ने कहा कि डिजिटल युग में संचार की नई संभावनाएं तेजी से पुराने पत्रकारों को मीडिया में नई भूमिका निभाने पर मजबूर कर रही है.आजकल नागरिक पत्रकारिता,भागीदारी पत्रकारिता,वेबलॉग्स,फेसबुक आदि के माध्यम से अभिव्यक्तियां प्रगट करना आम हो गया है.साथ ही उन्होंने मीडियाकर्मियों से परस्पर सहयोग कर नए समाज के निर्माण की अपील किया.



जबकि सदर अनुमंडल पदाधिकारी मनेश कुमार मीणा ने कहा कि प्रेस की स्वतंत्रता पत्रकारिता आचारनीति का प्रतीक है.पहले के समय में समाचार को पत्रकारों के द्वारा परिभाषित और चिन्हित किया जाता था.लेकिन डिजिटल युग में सोशल मीडिया समाचार तक पहुंचने का एक बड़ा मंच बनता जा रहा है.साथ ही उन्होंने कहा कि आज फर्जी समाचार भी अधिक प्रचलित हो रहें हैं.जिससे समाचारों की विश्वसनीयता कम हो रही है.जो मीडिया के लिए एक बड़ी चुनौती है.मौके पर वरिष्ठ पत्रकार रंजन वर्मा, आरएमपी मधुकर, प्रभाकर सिन्हा, अरुण कुमार वर्मा,विक्रम कुमार, मोहम्मद इरफान आलम, सिकंदर आजाद वक्त,राजेश कुमार सिन्हा,धर्मवीर सिंह,निसार अंसारी,मनोज पटेल,सुमलेश कुमार,पुरुषोत्तम कुमार, राजीव कुमार,सरफराज आलम,गीता कुमार, मनेन्द्र कुमार,सतीश रजक,मनोज मिश्रा, कुमार ज्ञान प्रकाश, गौरव कुमार सहित जनसंपर्क के अभिजीत आनंद एवं विजय कुमार प्रसाद मौजूद थे.



Check Also

इमरजेंसी में 112 नंबर डायल करते ही तुरंत पहुंच जायेगी रेस्पांस टीम

इमरजेंसी में 112 नंबर डायल करते ही तुरंत पहुंच जायेगी रेस्पांस टीम

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: