Breaking News

बच्चों ने भी लिया अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के कार्यक्रम में बढ-चढकर हिस्सा

खगड़िया : अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के अवसर पर बुधवार को जिले के मानसी प्रखंड के राजाजान पंचायत भवन मे नशा मुक्त भारत के जिला संयोजक सह योग प्रशिक्षक जितेन्द्र कुमार यादव के द्वारा बच्चों को योग का प्रशिक्षण दिया गया.उल्लेखनीय है कि विगत दो माह से प्रत्येक रविवार को यहां निःशुल्क योग का प्रशिक्षण दिया जा रहा है.मौके पर योग प्रशिक्षक जितेन्द्र कुमार यादव ने संबोधित करते हुए कहा कि योग से मनुष्य का शरीर निरोग रहता है और साथ मानसिक व शारीरिक कार्य क्षमता में भी विकास होता है.वहीं नशा मुक्त भारत के संस्थापक प्रेम कुमार यशवंत व सदर संजोजक बीरू कुमार ने अपने-अपने संबोधन में कहा कि बच्चों के लिए योग का प्रशिक्षण लेना जरूरी है. क्योंकि बच्चे देश के भविष्य होते हैं और उनके स्वास्थ्य पर ही देश का भविष्य निर्भर है.इस अवसर पर आयोजकों ने बताया कि बहुत ही कम समय मे 6 साल की गुणगुण कुमारी योग की कई महत्वपूर्ण विद्या सीख चुकी है.योगा कार्यक्रम में रेखा, रुपा, बंदना,रिमझिम,विभा,देवराज,आजाद, मनीष,मनखुश,प्रहलाद, सिन्टु,बालबीर,संजीव सहित कई बच्चों ने भाग लिया.दूसरी तरफ अखिल विश्व गायत्री परिवार,शांतिकुंज हरिद्वार के तत्वाधान में अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के अवसर पर जिला गायत्री शक्तिपीठ में योग शिविर का आयोजन किया इस अवसर पर भारत सरकार के प्रोटोकॉल के अनुसार योग प्रशिक्षक रामेश्वर प्रसाद के द्वारा विभिन्न योगासन एवं प्राणायाम का प्रदर्शन व अभ्यास कराया गया.योगासन के अंतर्गत पवन मुक्तासन,प्रज्ञा योग,मयूरासन,धनुषासन,सर्पासन आदि एवं प्रणायाम के तहत अनुलोम-विलोम,कपालभाति,भ्रामरी आदि प्रमुख था.कार्यक्रम का मुख्य आकर्षण बाल-संस्कारशाला के बच्चे-बच्चियों के द्वारा किया गया योगाभ्यास का प्रदर्शन,गांधी विचारधारा का प्रदर्शन आदि उपस्थित दर्शकों का मन मोह लिया.इस अवसर पर मुख्य अतिथि के तौर पर जिला परिषद के अध्यक्ष श्वेता भारती,युवा नेता सुशांत यादव मौजूद थे.जिनका स्वागत गायत्री परिवार के जिला संयोजक अरविन्द प्रसाद सिंह ने किया.वहीं मुख्य अतिथि सुशांत यादव ने संक्षिप्त रूप से योग की महत्ता पर प्रकाश डाला.मौके पर प्रज्ञा युवा प्रकोष्ठ के ब्रजेश, रंजन,बबलू,भानू,नीरज,बिट्टू आदि उपस्थित थे.साथ ही स्थानीय गुरु शांति हेल्थ एंड योग इंस्टीच्यूट में भी अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के अवसर पर एक कार्यक्रम का आयोजन किया गया.इस अवसर पर योगाचार्य नरेंद्र ब्रह्मचारी प्रशिक्षक के रूप में एवं पूर्व उपसमाहर्ता बोढन मेहता मुख्य वक्ता के तौर पर मौजूद थे.मौके पर योगाचार्य नरेंद्र ब्रह्मचारी ने बच्चों को योग के बारे में विस्तृत जानकारी देते हुए कहा कि योग का अर्थ अपने चित्त  के वृत्तियों का निरोध है.अष्टांग योग के द्वारा मनुष्य अपने मनुष्यता को प्राप्त करते हुए जीवन के अंतिम लक्ष्य को पाकर सुखमय जीवन यापन कर सकता है.वहीं उपसमाहर्ता बोढन मेहता ने कहा कि बच्चे राष्ट्र  राष्ट्र का निर्माण करना चाहिए.मौके पर दर्जनों बच्चे उपस्थित थे.

 

यह भी पढें – …और विश्व योग दिवस के अवसर पर त्यागी बन गये योगी

Check Also

अस्पतालों का होगा अब अपना फीडर, मिलेगी निर्बाध बिजली

अस्पतालों का होगा अब अपना फीडर, मिलेगी निर्बाध बिजली

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: