Breaking News

काल ने दूधमुंहे बच्चे को पुचकारने का भी नहीं दिया मौका और दुनिया छोड़ गईं मां




लाइव खगड़िया (मुकेश कुमार मिश्र) : किसी ने सच ही कहा है कि मौत के सौ बहाने होते हैं और जिन्दगी के किस मोड़ पर किसका इससे सामना हो जाये, इसकी कल्पना भी नहीं की जा सकती है. कुछ ऐसा ही हुआ है जिले के परबत्ता प्रखंड अंतर्गत माधवपुर गांव के राजू सिंह की 25 वर्षीय पत्नी जुही देवी के साथ और वो पल दो पल में अपनी दो मासूम बच्चियों को रोती-बिलखती छोड़ कर इस संसार से सदा के लिए विदा हो गई.

काल ने एक मां को इतना भी मौका नहीं दिया कि वो अपनी मासूम बच्चियों को थोड़ी पुचकार भी सके. घटना के बाद इन मासूमों को देखकर मानों हर का कलेजा बाहर निकल आ रहा था. लेकिन शायद यही मौत की एक खौफनाक सच्चाई थी.

दरअसल अन्य दिनों की तरह रविवार को भी जुही देवी अपने घर में रोजमर्रा की कामों में व्यस्त थी. इसी क्रम में अचानक उनका हाथ विद्युत प्रवाहित एक तार के संपर्क में आ गया. बताया जाता है कि तार बीच से कटा हुआ था और इस बात से घर का हर सदस्य अंजान था. घटना के बाद पीड़ित को आनन-फानन में गोगरी के रेफरल अस्पताल लाया जा रहा था. लेकिन उन्होंने रास्ते में ही दम तोड़ दिया. घटना की सूचना पर परबत्ता की पुलिस भी मौके पर पहुंची और शव को कब्जे में लेकर उसे पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल भेज दिया.




हृदय विदारक घटना के बाद से गांव में मातमी सन्नाटा पसर गया. जबकि मृतक की दूधमुंही बच्ची सोम्या व रिया की चित्कार से उपस्थित हर आंखें नम हो जा रही थी. उधर माधवपुर पंचायत के मुखिया जनार्दन सिंह, सामाजिक कार्यकर्ता लालरतन सहित ग्रामीणों ने आपदा विभाग से पीड़ित के परिजनों को मुआवजा देने की मांग की है.


Check Also

‘हम, भारत के लोग, भारत को एक…

'हम, भारत के लोग, भारत को एक...

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: