Breaking News

एनडीए के नवनिर्वाचित सांसदों में महबूब अली कैसर एक मात्र मुस्लिम चेहरा




लाइव खगड़िया : हाल ही में संपन्न हुए 17वीं लोकसभा में विभिन्न राजनीतिक दलों के कुल 24 मुस्लिम चेहरे सांसद निर्वाचित हुए है. बात यदि एनडीए की करें तो खगड़िया संसदीय सीट से निर्वाचित लोजपा के चौधरी महबूब अली कैसर एक मात्र मुस्लिम चेहरे हैं जिन्हें इस चुनाव में सफलता मिली हैं. ऐसे में राजनीतिक गलियारे में मोदी मंत्रिमंडल में उन्हें जगह मिलने की चर्चाओं का दौर भी शुरू हो चुका है. लेकिन इसके लिए लोजपा सुप्रीमो रामविलास पासवान को दरियादिली दिखानी होगी. लेकिन अबतक ऐसा कोई संकेत मिलता हुआ नहीं दिख रहा है.




अतीत के आइने में लोजपा सुप्रीमो रामविलास पासवान के राजनीति को यदि मुस्लिम प्रेम के नजरिए से देखा जाये तो बिहार में फरवरी 2005 का वो वक्त सामने आया था जब सत्ता की चाबी लोजपा के हाथ में थी और वो राजद व कांग्रेस से किसी मुस्लिम को मुख्यमंत्री बनाने पर समर्थन देने की बात करते रहे थे. लेकिन उस वक्त ऐसा संभव हो नहीं सका था और अंतत: विधान सभा भंग हो गई. जिसके बाद बिहार को दोबारा चुनाव झेलना पड़ा था. हलांकि यह बातें अब पुरानी हो गई है और बात यदि हाल की करें तो बीते वर्ष लोजपा सुप्रीमो रामविलास पासवान ने कहा था कि भाजपा को अल्पसंख्यक विरोधी खासकर मुस्लिम विरोधी छवि सुधारने की जरूरत है. इस लिहाज से लोजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष रामविलास पासवान के पाले में अब गेंद है और वे लोजपा कोटे से स्थानीय नवनिर्वाचित सांसद चौधरी महबूब अली कैसर को मोदी मंत्रिमंडल के लिए प्रमोट कर एक नजीर पेश कर सकते है. लेकिन मिल रही जानकारी के अनुसार एक बार फिर लोजपा सुप्रीमो रामविलास पासवान खुद ही मोदी कैबिनेट में शामिल होगें. इसके पूर्व उनके पुत्र चिराग पासवान का केन्द्र में मंत्री बनने की चर्चाएं थी. गौरतलब है कि रामविलास पासवान इस बार लोकसभा का चुनाव नहीं लड़ा था. बताया जा रहा है कि वे बिहार या फिर असम से राज्यसभा में जायेंगे. यदि ऐसा होता है तो एक बार फिर एनडीए को एक मात्र मुस्लिम सांसद देने वाला खगड़िया की उम्मीदें धूमिल हो जायेगी.


Check Also

इमरजेंसी में 112 नंबर डायल करते ही तुरंत पहुंच जायेगी रेस्पांस टीम

इमरजेंसी में 112 नंबर डायल करते ही तुरंत पहुंच जायेगी रेस्पांस टीम

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: